पुडुचेरी में होंगे राष्ट्रीय पायथियन खेल: राजेश जोगपाल

चंडीगढ़। आधुनिक पायथियन खेलों के संस्थापक और अंतर्राष्ट्रीय पायथियन परिषद के महासचिव बिजेंदर गोयल के नेतृत्व में 6 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल ने पुडुचेरी के मुख्यमंत्री एन रंगासामी से मुलाकात कर पायथियन खेलों के संबंध में चर्चा की। इस दौरान पुडुचेरी सरकार पहले राष्ट्रीय पायथियन खेलों की मेजबानी करने पर सहमत हो गई है।
पाइथियन काउंसिल आफ इंडिया के राष्ट्रीय महासचिव राजेश जोगपाल ने पुडुचेरी सरकार का इस आयोजन की मेजबानी के लिए सहमति देने पर आभार व्यक्त किया। जोगपाल ने बताया कि भारत ने इस खेलों के विकास के लिए काम शुरु किया है। हाल ही में एक इंटरनेशनल कांफ्रेंस हुई थी, जिसमें 94 से अधिक देशों ने भाग लिया। इसके बाद 16 देशों की एक बॉडी बना दी है। जबकि 8 देश अपनी बॉडी जल्दी ही तय करेंगे।
राजेश ने बताया कि पुडुचेरी के मुख्यमंत्री एन रंगासामी से प्रतिनिधिमंडल ने वर्ष 2023 और 2024 में प्रथम राष्ट्रीय पायथियन खेलों, राष्ट्रीय पायथियन पुरस्कार और विकलांग क्रिकेट लीग के आयोजन में सरकार के साथ संभावित सहयोग के बारे में चर्चा की। इसमें 10,000 लोगों तक की भागीदारी के साथ इन आयोजनों का उद्देश्य भारतीय कला रूपों को बढ़ावा देना और पुनर्जीवित करना है।
पारंपरिक खेल और पुडुचेरी को अंतरराष्ट्रीय पहचान दिलाने का प्रयास होगा:
अंतर्राष्ट्रीय पायथियन परिषद के महासचिव बिजेंदर गोयल ने कहा हमें यह घोषणा करते हुए खुशी हो रही है कि पर्यटन मंत्री के. लक्ष्मीनारायणन पुडुचेरी में इन खेलों की मेजबानी के लिए सैद्धांतिक रूप से सहमत हो गए हैं। अब हम माडल पर काम करेंगे और उन्हें सरकार के सामने पेश करेंगे। मेजबानी इंटरनेशनल पाइथियन और गैर-लाभकारी संगठनों डेल्फिक इंडिया ट्रस्ट और पाइथियन काउंसिल आफ इंडिया द्वारा एक संयुक्त प्रयास होगा।
अंतरराष्ट्रीय बाजरा महोत्सव में पांरपरिक खाद्य पदार्थ प्रदर्शित होंगे:
अंतर्राष्ट्रीय बाजरा महोत्सव का आयोजन भारत के समृद्ध पारंपरिक खाद्य पदार्थों को प्रदर्शित करने के लिए किया जाएगा। संयुक्त राष्ट्र की 2023 की घोषणा के साथ अंतर्राष्ट्रीय बाजरा वर्ष के रूप में घोषित किया जाएगा। मॉडर्न पाइथियन गेम्स का उद्देश्य पुडुचेरी राज्य के लिए अंतर्राष्ट्रीय ब्रांडिंग प्रदान करना और भारत की सांस्कृतिक विरासत को संरक्षित और जश्न मनाने के साथ-साथ राजस्व उत्पन्न करना है।
प्रतिनिधिमंडल ने खेल और युवा मामलों के मंत्री ए नमस्सिवम और डिप्टी स्पीकर राजावेलु के साथ बैठकें कीं। अंतर्राष्ट्रीय पाइथियन काउंसिल के उप महासचिव एस शिव कुमार, प्रसिद्ध कलाकार और सामाजिक कार्यकर्ता मलाथी राजावेलु और वाणिज्यिक कर के पूर्व आयुक्त एम राजशेखर प्रतिनिधिमंडल के अन्य सदस्य थे।

Back to top button