हांगकांग की टमारशिप मैनेजमेंट कंपनी के सीईओ मार्टिन ने पहुंचे जसवां-परागपुर

डे नाईट न्यूज़ हांगकांग की प्रतिष्ठित मेरीटाइम कंपनी टमार शिप मैनेजमेंट लिमिटेड ने अगले वर्ष से जसवां-परागपुर क्षेत्र में मर्चेंट नेवी में रोजगार की संभावनाओं को लेकर खाका तैयार करना शुरू कर दिया है। इसी सिलिसले में उक्त कंपनी के सीइओ मार्टिन पीटर हेनरी ने रविवार को जसवां-परागपुर क्षेत्र का दौरा किया और मर्चेंट नेवी में कार्यरत इस क्षेत्र के युवाओं के गांवों में पहुंचकर अगले वर्ष के लिए रोड़ मैप तैयार किया। मार्टिन का कहना था कि इस क्षेत्र में मर्चेंट नेवी में कार्यरत युवा ईमानदारी, लग्न व जज्बे से काम करते हैं और यही बात उन्हें यहां तक खींच कर ले आई है। उन्होंने कहा कि नए वर्ष में मर्चेंट नेवी के क्षेत्र में कई योजनाओं पर काम करने की इच्छा है। वहीं, मार्टिन ने रविवार को क्षेत्र के मर्चेंट नेवी में चयनित हो चुके उन युवाओं के घरों का दौरा भी किया, जिनके सिर पर मां-बाप का साया नहीं है। जसवां-परागपुर क्षेत्र से मर्चेंट नेवी में जाने वाली घमरूर की युवती सिमरन के घर भी मार्टिन विशेष रूप से पहुंचे। इस दौरान बीबीएन शिप मैनेजमेंट कंपनी की निदेशक सोनिका पराशर व वीआर मेरीटाइम कंपनी के एमडी कैप्टन उमेश शेट्टी भी मार्टिन के साथ उपस्थित रहे। दरअसल जसवां-परागपुर क्षेत्र में टमार शिप मैनेजमेंट लिमिटेड और इंग्लैंड की नामी कंपनी टेलर मेरीटाइम इंवेस्टमेंट लिमिटेड दिलचस्पी का कारण कैप्टन संजय पराशर भी रहे हैं। इसी वर्ष पहले टमार के प्रबंधकों से पराशर ने मुलाकात की थी और सितंबर माह में पराशर ने इंग्लैंड में लंदन स्टॉक मार्केट में सूचीबद्ध टेलर मेरीटाइम एलेक्जेंडर स्ली से कैप्टन संजय इंग्लैंड में मिले थे। तब दोनों कंपनियों के पदाधिकारियों ने घोषणा की थी कि वे कंपनी के क्षेत्रीय कार्यालय जसवां-परागपुर क्षेत्र में खोलेंगे। अब टमार कंपनी के इस वरिष्ठ अधिकारी के दौरे के बाद निश्चित तौर इस चर्चा को बल मिला है कि यह कंपनी अगले वर्ष से प्रदेश व जसवां-परागपुर क्षेत्र के युवाओं को रोजगार दिलाने के लिए प्रत्यन्नशील रहने वाली है। वहीं, भारत की बीस सबसे बड़ी मेरीटाइम कंपनियों में शुमार शिपिंग कंपनी वीआर मेरीटाइम में इस समय सबसे ज्यादा हिमाचली नाविक कार्यरत हैं। इसी बात को ध्यान में रखते हुए बड़ी अंतरराष्ट्रीय मेरीटाइम कंपनियों ने भी इस क्षेत्र का रूख करना शुरू कर दिया है। इस बारे में टमार के सीइओ मार्टिन हेनरी ने बताया कि इस क्षेत्र के युवाओं में मर्चेंट नेवी को लेकर जो उत्साह है, उसके वह कायल हो गए हैं। अगले वर्ष निश्चित तौर पर वह जसवां-परागपुर क्षेत्र में बड़े प्राेजेक्ट पर काम करने शुरू करने जा रहे हैं। हेनरी ने कहा कि इस क्षेत्र को मर्चेंट नेवी का हब बनाने के लिए उनकी कंपनी से जो संभव हो पाएगा, उसे जमीनी स्तर पर उतारा जाएगा। फिलहाल इस क्षेत्र का दौरा करके उन्होंने रोड़ मैप तैयार कर लिया है और कंपनी के वरिष्ठ अधिकारियों से विचार-विमर्श के बाद दिसंबर माह में कार्ययोजना को अमल में लाया जाएगा। वहीं, बीबीएन शिपिंग कंपनी की निदेशक सोनिका पराशर और वीआर मेरीटाइम कंपनी के एमडी कैप्टन उमेश शेट्टी ने कहा कि मार्टिन का इस दौरे से रोजगार को लेकर नई उम्मीदें जगी हैं।

Back to top button