अस्मत से चुकानी पड़ी गलत बस में चढ़ने की कीमत, मदद करने के बहाने शिवपुरी ले गया था कंडक्टर

डे नाईट न्यूज़ शिवपुरी जिले में बस में महिला से दुष्कर्म का मामला सामने आया है। बस कंडक्टर ने उसके साथ पिछली सीट पर धमकाकर गलत काम किया। आरोपी कंडक्टर उसे बहलाकर ललितपुर की जगह बस में बैठाकर शिवपुरी लेकर आया था। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। उसने नशे की हालत में दुष्कर्म की बात कबूली है।

पिछोर थाना क्षेत्र की रहने वाली 22 साल की विवाहिता ने बताया, मंगलवार को ससुराल से मायके ललितपुर जाने के लिए अकेले ही निकली थी। पिछोर से चंदेरी की ओर जा रही बस में सवार होकर चंदेरी पहुंची। यहां उसे ललितपुर की ओर जाने वाली बस में सवार होना था। बस स्टैंड पर उसने किसी ने जानकारी ली तो उसने एक बस दिखाते हुए कहा, यह ललितपुर की ओर ही जा रही है। उसी बस में वह सवार हो गई।

बस चली तो कंडक्टर महिला के पास पहुंचा। उसने उससे किराए के 250 रुपये मांगे। बस शहर से बाहर निकली तो महिला को रास्ता अंजान लगा। इस पर महिला ने कंडक्टर से पूछा कि बस कहां जा रही है। उसने बताया कि बस शिवपुरी जा रही है। इस पर बस रोककर महिला को उतारने को कहा। कंडक्टर ने कहा, बैठी रहो आगे ललितपुर जाने वाली दूसरी बस में बैठा दूंगा। वह रास्ते भर ललितपुर जाने वाली बस का इंतजार करती रही। लेकिन वह ललितपुर की जगह शिवपुरी पहुंच गई।

महिला ने बताया, देर शाम बस शिवपुरी बस स्टैंड पर आकर रुकी। सभी यात्री उतर गए, लेकिन मैं बैठी रही। सबके उतरने के बाद मैंने कंडक्टर से कहा, आपने कहा था ललितपुर जाने वाली बस रास्ते में मिल जाएगी। अब मैं रात में कहां जाऊंगी। इस पर उसने कहा, अब तो सुबह ही बस ललितपुर के लिए मिलेगी। बस अलसुबह यहीं से छूटेगी, इसलिए तुम इसी बस में रात गुजार लो। सुबह बस आएगी तो मैं बैठा दूंगा।

महिला ने बताया कि बस यहां से डीजल भराने के लिए होटल पीएस के पास स्थित पेट्रोल पंप पर पहुंची। बस रुकने के बाद कंडक्टर ने शराब पी। ड्राइवर भी डीजल डलवाने के लिए बस को पेट्रोल पंप पर किनारे लगाकर नीचे उतर गया। इसी दौरान नशे में धुत कंडक्टर बस में आया और मेरे पास खड़ा हो गया। मैं पिछली सीट पर बैठी थी। उसने मेरे साथ यहां दुष्कर्म किया।

महिला ने बताया, दुष्कर्म के बाद कंडक्टर ने बस में ही रात गुजारने के लिए मुझे धमकाया। इसके बाद वह फिर से शराब पीने के लिए आगे की सीट पर जाकर बैठ गया। यहां उसने शराब पीना शुरू किया तो मुझे बस से उतरने का मौका मिल गया। मैं पिछले दरवाजे से बाहर निकली और रात में ही लोगों ने थाने का रास्ता पूछते हुए पहुंची। यहां पर मैंने पुलिस को पूरी घटना बताई।

सिटी कोतवाली थाना प्रभारी अमित भदौरिया का कहना है, पीड़िता ने रात में दुष्कर्म की शिकायत दर्ज कराई थी। शिकायत के बाद आरोपी कंडक्टर धीरेंद्र लोधी (24 साल) पुत्र शंकर लोधी, निवासी भरतपुर, थाना पिछोर को पकड़कर उसके खिलाफ दुष्कर्म की धाराओं में मामला दर्ज किया गया है। आरोपी कंडक्टर ने शराब के नशे में दुष्कर्म की बात कबूल की है।

Back to top button