भारतीय टीम पर बिफरे कपिल देव, कहा- अब कहने को क्या बचा, जब कप्तान ही कह रहा कि दबाव नहीं झेल पाए

डे नाईट न्यूज़ टी20 वर्ल्ड कप में भारतीय टीम की हार से भारतीय फैन्स में आक्रोश है। दो साल के अंदर हुए दो टी20 वर्ल्ड कप में भारतीय टीम ट्रॉफी जीतने में असमर्थ रही। इससे फैन्स काफी नाराज हैं। भारत को सेमीफाइनल में मिली हार के बाद पूर्व क्रिकेटर्स भी टीम इंडिया की आलोचना कर रहे हैं। इसी कड़ी में भारत को 1983 वर्ल्ड कप जिताने वाले कप्तान कपिल देव का भी बयान सामने आया है। 

कपिल देव ने एक टीवी चैनल से बातचीत में कहा है कि जब कप्तान रोहित शर्मा ही बोल रहे कि उनकी टीम दबाव नहीं झेल पाई तो अब कहने के लिए कुछ बचा ही नहीं है। इसका मतलब यही है कि टीम इंडिया अभी बड़े मैच खेलने के लिए तैयार ही नहीं है। 

कपिल ने कहा कि हमारे खिलाड़ी आईपीएल जैसे बड़े टूर्नामेंट खेलते हैं। वहां इससे भी ज्यादा दबाव दिखता है, लेकिन वहां तो वह अच्छा प्रदर्शन करने में कामयाब रहते हैं। इसके जवाब में वहां मौजूद एक और पूर्व क्रिकेटर अतुल वासन ने कहा कि अगर आईपीएल में ज्यादा दबाव है तो यह स्कैंडल है और हमें दोबारा से सिस्टम बनाने की जरूरत है।

भारतीय टीम को इंग्लैंड के खिलाफ सेमीफाइनल में 10 विकेट से करारी शिकस्त झेलनी पड़ी थी। पहले बल्लेबाजी करते हुए भारत ने 20 ओवर में छह विकेट गंवाकर 168 रन बनाए। जवाब में इंग्लैंड ने 16 ओवर में बिना कोई विकेट गंवाए लक्ष्य हासिल कर लिया। हार के बाद कप्तान रोहित ने कहा था कि झे लगता है कि हमने अच्छा स्कोर बनाया था, लेकिन गेंद के साथ हमारा प्रदर्शन कुछ खास नहीं था। यह ऐसा विकेट नहीं था, जहां कोई टीम 16 ओवर में लक्ष्य का पीछा कर सकती है। हम आज गेंद के साथ कमाल नहीं कर पाए। रोहित ने सेमीफाइनल मैच के दबाव पर बात करते हुए कहा- जब नॉकआउट मैचों की बात आती है, तो यहां दबाव को सोखना जरूरी हो जाता है। यह हर व्यक्ति पर निर्भर करता है। आप किसी को दबाव को संभालना नहीं सिखा सकते। जब ये लोग आईपीएल में प्लेऑफ खेलते हैं तो वहां भी काफी ज्यादा दबाव होता है और वे इसे संभालने में सक्षम हैं। जिस तरह से हमने गेंदबाजी की शुरुआत की वह सही नहीं था। हम थोड़े नर्वस थे, लेकिन आपको सलामी बल्लेबाजों को भी श्रेय देना होगा। उन्होंने वास्तव में अच्छा खेल दिखाया।

Back to top button