एक लाख रुपये न चुकाने पर बॉस ने किया पत्नी और बच्चे का अपहरण, जांच में जुटी पुलिस

डे नाईट न्यूज़ आंध्र प्रदेश के वाईएसआर जिले में उधार के रुपये न चुकाने पर महिला और उसके एक माह के बच्चे का अपहरण करने का मामला सामने आया है। अपहरण का आरोप महिला के पति के बॉस पर है। पुलिस के मुताबिक कर्ज न चुकाने पर इस घटना को अंजाम दिया गया। पुलिस ने आरोपी नर्सरी के मैनेजर को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है, जबकि महिला और उसके बच्चे को पति को सौंप दिया गया है।  

जानकारी के मुताबिक महिला के पति ने नर्सरी के मैनेजर सुधाकर रेड्डी से एक लाख रुपये उधार लिए थे। महिला का पति नर्सरी पर पिछले 11 साल से काम कर रहा है। वह काफी से समय से रुपये नहीं चुका पा रहा था। महिला ने कहा,  नर्सरी मैनेजर सुधाकर रेड्डी एक लाख की जगह दो लाख रुपये चुकाने का दवाब बन रहा था। अक्सर वह तगादा करने आता और वह दो लाख रुपये की मांग करता था। महिला ने कहा छह दिन पहले नर्सरी का मैनेजर उनके घर पहुंचा। पति की गैरमौजूदगी में दोनों का अपहरण कर लिया। उसके पति ने नर्सरी में काम कर पैसे चुकाने की बात अपने बॉस सुधाकर रेड्डी से कही थी। उसके बाद भी वह नहीं माना। उसकी पत्नी और बच्चे को नहीं छोड़ा। मामले की सूचना मिलते ही एक्टिव हुई पुलिस ने दोनों को बरामद कर लिया। आरोपी के खिलाफ एससी/एसटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है। एसपी केएन अंबुराजन ने बताया कि नर्सरी के मैनेजर को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। घटना की जांच डीएसपी को सौंपी गई हैं। जांच में सामने आया है कि महिला के पति ने उससे दो लाख रुपये लिए थे। जिन्हें वह चुका नहीं पा रहा था। अक्सर पैसे मांगने पर वह अनसुना कर देता था। महिला भी मजदूरी करती है।

Back to top button