पति ने स्वीकारा महिला की हत्या का अपराध…

डे नाईट न्यूज़ । मोहल्ला गढ़ी कनखनी से लापता महिला की हत्या की जा चुकी है। पति ने ही शराब का विरोध करने पर उसकी गला दबाकर हत्या की थी और शव को संदूक में रखकर मसूरी ले जाकर उसे गंगनहर में फेंक दिया था। पुलिस ने पति को गिरफ्तार कर संदूक बरामद कर लिया है।

पुलिस क्षेत्राधिकारी डाक्टर तेजवीर सिंह ने बताया कि मोहल्ला गढ़ी कनखली निवासी महिला बबीता विगत दस मई को लापता हो गई थी। 12 मई को विवाहिता को घर पर मौजूद न देख पिता विजयपाल सिंह निवासी खुर्जा बुलंदशहर ने गुमशुदगी दर्ज कराई थी। पुलिस ने महिला की तलाश शुरू कर दी। इस दौरान पुलिस को पता चला कि महिला की हत्या कर दी गई है। हालांकि साक्ष्य नहीं होने के कारण जांच आगे बढ़ाई गई। पुलिस क्षेत्राधिकारी ने बताया कि महिला के पति नरेश को बृहस्पतिवार दोपहर गिरफ्तार कर पूछताछ की गई। नरेश ने अपना अपराध स्वीकार कर लिया। नरेश शराब का आदी था और बबीता अक्सर शराब का विरोध करती थी। दस मई को भी शराब को लेकर पति-पत्नी के बीच विवाद हुआ। जिस पर आरोपित नरेश ने पहले बबीता के साथ मारपीट की और बाद में उसका गला दबाकर हत्या कर दी। हत्या के बाद शव को आरोपित ने संदूक में रखा और मसूरी गंगनहर के निकट पहुंचा। जहां संदूक से निकालकर शव गंगनहर में फेंक दिया गया।

पुलिस क्षेत्राधिकारी ने बताया कि आरोपित की निशानदेही पर शव ठिकाने लगाने में इस्तेमाल संदूक को बरामद कर लिया गया है। हालांकि अभी तक महिला का शव का बरामद नहीं हुआ है। गोताखोरों की मदद से शव की तलाश चल रही है। फारेंसिक टीम ने घटना स्थल यानी मृतका के मकान में जाकर साक्ष्य एकत्रित किए है।

तीन साल बच्ची ने खोला राज : 12 मई को पुत्री की खैर-खबर लेने के लिए जब बुलंदशहर निवासी विजयपाल ससुराल गढ़ी मोहल्ले में पहुंचे, तो ससुराल पक्ष के लोगों की तरफ से कोई संतोषजनक जवाब नहीं दिया गया। इसी बीच विजयपाल को मृतका की तीन वर्षीय पुत्री ने बताया कि मम्मी के साथ पापा ने मारपीट की है। विजयपाल ने यह सूचना गुमशुदगी दर्ज कराते हुए दी। जिस पर पुलिस ने मामले की गंभीरता से जांच की और एक के बाद एक महिला की गुमशुदगी से पर्दा हटता गया।

Back to top button