क्यों अयोध्या वापस भेजे गये परमहंसाचार्य…

डे नाईट न्यूज़। ताजमहल में प्रवेश के विवाद में गेस्टहाउस में नजरबंद किये गए जगद्गुरू परमहंसाचार्य को बुधवार सुबह पुलिस अभिरक्षा में वापस अयोध्या के लिए रवाना कर दिया गया। पुलिस ने मंगलवार को अचानक शहर में पहुंचे परमहंसाचार्य को पुलिस ने हिरासत में ले लिया था और उन्हें मथुरा रोड पर कीठम में स्थित गेस्टहाउस में नजरबंद कर दिया था। अयोध्या रवाना होने से पहले जगतगुरू ने कहा कि जब तक वे भगवा वस्त्र पहनकर ताजमहल नहीं देख लेते, तब तक उनका अनशन जारी रहेगा। अयोध्या पहुंचकर वे अपनी आगे की रणनीति के बारे में बताएंगे। उन्होंने पुलिस पर मंगलवार की शाम मोबाइल फोन छीनने व अभद्रता करने का आरोप भी लगाया।

इससे पहले मंगलवार को परमहंसाचार्य को पूरे दिन गेस्ट हाउस में रखा गया। आज सुबह करीब दस बजे एसएसपी सुधीर कुमार सिंह गेस्ट हाउस पहुंचे। उन्होंने परमहंसाचार्य से बात की। एसएसपी ने उन्हें पूरी सुरक्षा के बीच में अयोध्या भेजे जाने की बात कही। इसके बाद करीब साढ़े 10 बजे पुलिस सुरक्षा के बीच उन्हें अयोध्या के लिये रवाना कर दिया गया। परमहंसाचार्य ने कहा कि पुलिस उन्हें भले ही अयोध्या भेज दे, लेकिन उनका अनशन जारी रहेगा। जब तक वे भगवा वस्त्र पहनकर ताजमहल में प्रवेश नहीं करेंगे, तब तक अनशन नहीं तोड़ेंगे। उन्होंने कहा कि अयोध्या पहुंचने के बाद आगे की रणनीति तैयार करेंगे। गौरतलब है कि परमहंसाचार्य विगत 26 अप्रैल को ताजमहल देखने आए थे, लेकिन सुरक्षा कर्मियों ने उन्हें धर्मदंड के साथ प्रवेश देने से इनकार कर दिया था। इसके बाद उन्होंने पांच मई को पुन: आगरा आकर ताजमहल में प्रवेश करने का ऐलान कर दिया था लेकिन परमहंसाचार्य दो दिन पहले ही मंगलवार को यहाँ आ गए। मंगलवार को ईद और परशुराम जयंती होने के कारण पुलिस अलर्ट पर थी। परमहंसाचार्य के आने की जानकारी मिलते ही पुलिस ने उन्हें अपनी हिरासत में लेकर हाउस अरेस्ट कर दिया था।

Back to top button