कहाँ कोयले का पर्याप्त भंडार है…

डे नाईट न्यूज़ । सार्वजनिक क्षेत्र की कोयला खनन कंपनी कोल इंडिया ने कहा कि ताप ऊर्जा संयंत्रों को पर्याप्त ईंधन की आपूर्ति करना उसकी ‘प्राथमिकता’ है। कंपनी ने अपने कर्मचारियों से चालू वित्त वर्ष में 70 करोड़ टन के कोयला उत्पादन और उठाव के लक्ष्य को पार करने के लिए अपने प्रयासों को तेज करने को कहा है।

कोल इंडिया लिमिटेड (सीआईएल) के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक प्रमोद अग्रवाल ने कर्मचारियों को भेजे पत्र में कहा कि कंपनी की प्राथमिकता यह सुनिश्चित करना है कि बिजली की कमी के बीच बिजली उत्पादन करने वाली इकाइयों के पास घरेलू ईंधन का पर्याप्त भंडार हो।

अग्रवाल ने कर्मचारियों से कहा कि वे इसे ‘पावन’ लक्ष्य मानें। उन्होंने कहा, ‘‘कोल इंडिया की प्राथमिकता है कि देश के बिजली संयंत्रों में घरेलू कोयले का पर्याप्त भंडार हो और देश को उचित दामों पर बिजली मिले। हमारा लक्ष्य ऊर्जा को कम से कम कीमत पर सुनिश्चित करने का होना चाहिए।’’ उन्होंने कहा, ‘‘बीते वित्त वर्ष के प्रदर्शन से प्रेरणा लें और 70 करोड़ टन उत्पादन तथा उठान के लक्ष्य को पार करें।’’

कंपनी की ओर से 2021-22 में ऊर्जा क्षेत्र को आपूर्ति 54.04 करोड़ टन के सर्वकालिक उच्चस्तर पर पहुंच गई थी। तब कंपनी का कोयला उठाव भी 66.2 करोड़ टन के रिकॉर्ड उच्च स्तर पर पहुंच गया, जो 2020-21 के मुकाबले 15.3 फीसदी अधिक था।

Back to top button