पर्यावरण विकास के लिए प्रशासन और जनप्रतिनिधि गण की बैठक…

डे नाईट न्यूज़ । भारत सरकार के पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन एवं उपभोक्ता मामले, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्रालय के राज्यमंत्री अश्विनी कुमार चौबे की अध्यक्षता में मंगलवार को जिला पंचायत सभागार में कोरबा लोकसभा क्षेत्र की सांसद ज्योत्सना महंत, जिला प्रशासन के अधिकारियों और जनप्रतिनिधिगण की मौजूदगी में समीक्षा बैठक सम्पन्न हुई। राज्यमंत्री श्री चौबे, समीक्षा बैठक के उपरांत जिले के मिडिया कर्मियों से प्रेसवार्ता कार्यक्रम में रूबरू हुए। राज्यमंत्री श्री चौबे ने समीक्षा बैठक में आकांक्षी जिला कार्यक्रम के अंतर्गत कोरबा जिले में हुए विभिन्न विकास कार्यो और शासकीय योजनाओं की प्रगति की समीक्षा की।

उन्होने समीक्षा बैठक के दौरान कृषि, स्वास्थ्य, पोषण, शिक्षा एवं रोजगार के क्षेत्र में जिले की प्रगति के बारे में जानकारी ली। बैठक में विभागीय अधिकारियों ने राज्यमंत्री के समक्ष जिले में हुए विभिन्न विकास कार्यो की जानकारी को आकांक्षी जिला द्वारा निर्धारित मापदण्डो के अनुसार पावरपाइंट के माध्यम से प्रस्तुतीकरण किया।

राज्यमंत्री श्री चौबे ने कहा कि जिले के विकास के लिए प्रशासन और जनप्रतिनिधि समन्वयता के साथ काम करें। जिससे जिले के सभी नागरिकों को सरकार के सभी योजनाओं का लाभ आसानी से मिलता रहे। उन्होंने कहा कि जिले के विकास की जिम्मेदारी प्रशासन के साथ-साथ जनप्रतिनिधिगण का भी है। जनता का कल्याण करना ही हम सब का लक्ष्य है। उन्होंने कहा कि सरकार की जनहितकारी योजनाओं से जनता को लाभांन्वित करने के लिए पार्टी विचारधारा से ऊपर उठकर सब मिल जुलकर जनसेवा के क्षेत्र में कार्य करें।

समीक्षा बैठक के दौरान जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती शिवकला कंवर, रामपुर विधानसभा क्षेत्र के विधायक ननकी राम कंवर, कलेक्टर श्रीमती रानू साहू, पुलिस अधीक्षक भोजराम पटेल, डी.एफ.ओ. कोरबा श्रीमती प्रियंका पाण्डेय, डी.एफ.ओ. कटघोरा श्रीमती प्रेमलता यादव, जिला पंचायत सी.ई.ओ. नूतन कंवर, संयुक्त कलेक्टर श्रीमती ममता यादव सहित जिले के जनप्रतिनिधिगण और अन्य अधिकारी, कर्मचारी मौजूद रहे।

राज्यमंत्री श्री चौबे ने बैठक में कृषि के क्षेत्र में जिले मे हो रहे विकास कार्य, रबी फसल, दलहन, तिलहन एवं सिंचाई की सुविधा आदि के बारे में जानकारी ली। उन्होने किसानों को आर्थिक रूप से मजबूत करने के लिए परम्परागत खेती के अलावा दो फसली को बढ़ावा देने की कार्य योजना पर काम करने के निर्देश कृषि विभाग के अधिकारियों को दिये।

कृषि विभाग के अधिकारियों ने बताया कि जिले में सिचाई सुविधाओं मे लगातार विस्तार किया जा रहा है। साथ ही नरवा विकास योजना के अंतर्गत पुराने नालों का जीर्णाेधार कर संरक्षित और संवर्धित किया जा रहा है। जिससे सिंचाई सुविधाओं का विस्तार हो रहा है, साथ ही ग्रामीणो को रोजगार भी मिल रहा है।

राज्यमंत्री श्री चौबे ने जिले में स्वास्थ्य के क्षेत्र में मरीजों के उपचार के लिए किये जा रहे कार्याे और प्रधानमंत्री आयुष्मान कार्ड से लाभान्वित मरीजों की भी जानकारी ली। उन्होने आयुष्मान कार्ड से निःशुल्क ईलाज की जानकारी सभी तक पहुंचाने के लिए सभी प्राइवेट और सरकारी अस्पतालों के बाहर डिस्पले बोर्ड के माध्यम से प्रचार-प्रसार करने के भी निर्देश दिये। राज्यमंत्री श्री चौबे ने जिले में रोजगार और स्वरोजगार के अंतर्गत किये जा रहे कार्यो और उपलब्धियों के बारे में जानकारी ली। जनजातियों के विकास के आधार पर योजना बनाकर तथा स्थानीय संसाधनों का योजनाबद्व तरीके से उपयोग करके स्थानीय लोगों को विकसित करने की योजना पर कार्य करने के लिये कहा। राज्यमंत्री श्री चौबे ने बैठक के दौरान शिक्षा के क्षेत्र में जिले में हो रहे प्रगति की भी जानकारी ली।

राज्यमंत्री श्री चौबे ने प्रेसवार्ता कार्यक्रम में जनता के विकास के लिए सरकार द्वारा संचालित योजनाओं की प्रगति की जानकारी दी। राज्यमंत्री श्री चौबे ने आकांक्षी जिला कार्यक्रम के अंतर्गत जिले में हो रहे विकास कार्याे को भी साझा किया। उन्होंने शिक्षा, स्वास्थ्य, पोषण एवं पर्यावरण आदि से संबंधित समस्याओं और सुझावो की भी जानकारी पत्रकारों से से ली।

Back to top button