माफिया मुख्तार अंसारी के गुर्गे अनुज कन्नौजिया के मकान पर चला बुलडोजर…

डे नाईट न्यूज़। उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ जिले के ग्राम ऐराकला में मजदूर की हुई हत्या के मामले में माफिया मुख्तार अंसारी के दाहिने हाथ कहे जाने वाले बदमाश अनुज कन्नौजिया के मकान पर सोमवार को योगी सरकार का बुलडोजर चला। उस पर 50 हजार रुपये का इनाम था।

वर्ष 2014 में तरवां थाना क्षेत्र के ग्राम ऐराकला में सड़क निर्माण के दौरान हुई गोलीबारी में एक मजदूर की मौत हो गयी थी। इस घटना में माफिया मुख्तार अंसारी समेत 11 लोग आरोपित थे। पुलिस ने इसी मामले में गैंगस्टर एक्ट के तहत भी मुकदमा पंजीकृत किया था। मामले में पुलिस ने 11 में से 10 आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया, लेकिन अभी तक अनुज कन्नौजिया फरार चल रहा था। वह मऊ जिले के ग्राम बहलोलपुर का निवासी है। अनुज पर 50 हजार रुपये का इनाम भी घोषित किया था।

मामले के विवेचक प्रशांत श्रीवास्तव ने जांच की तो पता चला कि अपराध जगत से अर्जित धन से अनुज कन्नौजिया गांव की पोखरी की जमीन पर मकान बना लिया है। विवेचक ने इसकी रिपार्ट आजमगढ़ के पुलिस अधीक्षक अनुराग आर्य को दी। इस रिपोर्ट पर पुलिस अधीक्षक ने ध्वस्तीकरण के लिए मऊ के जिलाधिकारी को पत्र लिखा था।

पुलिस अधीक्षक अनुराग आर्य ने बताया कि मुख्तार अंसारी गैंग के शार्प शूटर अनुज कन्नौजिया ने अपराध जगत से अर्जित धन से मऊ जिले के बहलोलपुर गांव में पोखरी की जमीन पर अवैध मकान बना लिया था। आज मऊ प्रशासन एवं पुलिस के सहयोग से उसके मकान को ध्वस्त कर दिया गया। अनुज कन्नौजिया तरवा थाने से गैंगस्टर एक्ट के मुकदमे में वांछित अपराधी है। उस पर 50 हजार का इनाम भी घोषित है। पुलिस अधीक्षक ने कहा कि जिले में जितने भी ऐसे गैंगस्टर हैं, उनके खिलाफ भी यह कार्रवाई आगे जारी रहेगी।

Back to top button