बलदेव पुलिस के उत्पीड़न से क्षुब्ध किसानों ने धरना देकर किया प्रदर्शन, सौंपा ज्ञापन…

-भाकियु भानु ने दिया अल्टीमेटम, समाधान न हुआ तो अनिश्चित कालीन धरना होगा 18 से

डे नाईट न्यूज़ । महावन में भारतीय किसान यूनियन भानु ने बलदेव पुलिस के उत्पीड़न एवं किसानों की विभिन्न समस्याओं को लेकर महावन तहसील में धरना प्रदर्शन कर एसडीएम महावन को मुख्यमंत्री के नाम प्रेषित ज्ञापन भी सौंपा। जल्द ही समाधान की मांग की, समाधान न होने पर भाकियु भानु ने 18 अप्रैल से बलदेव क्षेत्र में अनिश्चित कालीन धरना प्रदर्शन करने का ऐलान किया।
कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुए राष्ट्रीय वरिष्ठ उपाध्यक्ष रतन सिंह पहलवान एवं राष्ट्रीय प्रवक्ता हरेश ठेनुआ ने कहा कि बलदेव थाने में कुछ पुलिस अधिकारी सपा मानसिकता से कार्य कर मुख्यमंत्री की मंशा के विरुद्ध कार्य कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि दरोगा मोहित मलिक ने भाकियु कार्यकर्ता को मानसिक प्रताड़ित किया है, उसके साथ मारपीट, गालीगलौज कर झूंठे मुकदमों में फंसाने की धमकी दी। पीड़ित गोपाल सिकरवार ने बताया 23 जनवरी को आपस में दो पक्षों में झगड़ा हुआ था उसका स्वजनों ने मिलकर राजीनामा भी करा दिया।
उपनिरीक्षक मोहित मलिक ने झगड़े के राजीनामा होने पर तीस हजार रुपये की मांग की, जिसमें पीड़ित गोपाल सिकरवार ने 18500 रुपये दे भी दिए। बाकी रकम 11500 की मांग की पीड़ित ने जब भाकियू संगठन का हवाला देकर कहा तो उपनिरीक्षक ने संगठन का नाम लेकर अपमानित किया तथा। पीड़ित से अभद्रता करने लगा।
प्रदेश महासचिव रामवीर सिंह तोमर, जिला अध्यक्ष देवेंद्र पहलवान, एवं प्रदेश सचिव जगदीश रावत ने कहा कि एक तरफ किसान आवारा गोवंश से परेशान हैं दूसरी तरफ जिम्मेदार अधिकारी समस्या से मुंह चुरा रहे हैं, तो दूसरी तरफ किसानों को सिचाई के लिए पर्याप्त बिजली नहीं मिल रही है, जेई बलदेव लोकसेवक की मर्यादा को तोड़कर आये दिन किसानों के साथ अभद्रता करते हैं। उन्होंने कहा कि भीषण गर्मी पड़ रही है, लेकिन नहर बम्बों में पानी नहीं है, किसानों से लेकर पशु पक्षियों के लिए पीने के लिए पानी नहीं है। जिससे किसानों में भारी आक्रोश है। राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राजकुमार राना, रीतराम ठाकुर, गोपाल, विक्रम चौधरी आदि किसान मौजूद रहे। एसडीएम महावन देवेंद्र पाल सिंह ने बताया भाकियू भानु द्वारा दिए ज्ञापन को संबंधित अधिकारियों को भेजा जा रहा है।

Back to top button