महंगाई के खिलाफ कांग्रेस ने खजूरी चौक पर दिया धरना…

डे नाईट न्यूज़ । केंद्र की भाजपा सरकार व दिल्ली की आप पार्टी सरकार की दिशा विहीन नीतियों के चलते देश मे बेलगाम बढ़ती महंगाई के विरोध में कांग्रेस पार्टी द्वारा पूरे देश में चलाए जा रहे “महंगाई मुक्त अभियान” की श्रंखला में दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अनिल चौधरी के आह्वान पर खजूरी खास मेन चौक पर करावल नगर जिला कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष आदेश भारद्वाज के नेतृत्व में भी प्रदर्शन किया। इस मानव श्रंखला की अहम बात यह रही कि इस श्रंखला में न सिर्फ कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने हिस्सा लिया बल्कि सैंकड़ो की संख्या में क्षेत्रीय व आम नागरिकों ने हिस्सा लिया और सरकार के खिलाफ एकजुट होकर कांग्रेस का साथ देने का वायदा किया। इस मौके पर ईश्वर बागड़ी सहित कई अन्य ने भी विचार रखे। इस मौके पर कार्यकर्ताओं ने बढ़ती महंगाई पर अपने अपने विचार भी प्रकट किये। इस मौके पर बोलते हुए आदेश भारद्वाज ने कहा कि महंगाई जैसे मुख्य मुद्दे को लेकर सत्ता में आने वाली भाजपा की केंद्र सरकार अपने तमाम वायदों में फेल हो रही है। आज जिस तेजी से गैस, डीजल और पेट्रोल के दाम बढ़ रहे है उसी तेजी से दूसरी अन्य वस्तुओं के दामो में भी इजाफा हो रहा है। क्योकि डीजल और पेट्रोल के दाम किसी भी देश की अर्थव्यवस्था की धुरी माने जाते हैं। जब जब पेट्रोलियम पदार्थों के दामो में इज़ाफ़ा होगा तो अन्य पदार्थो की ढुलाई और आवक महंगी हो जाएगी जिसका सीधा सीधा असर दूसरी सभी वस्तुओं के दामो में पड़ता है और महंगाई अपने आप बढ़ जाती है। केंद्र सरकार चाहे तो प्रभावी नीति निर्धारण कर बढ़ती महंगाई पर अंकुश लगा सकती है, क्योकि अभी हाल ही में हुए 5 राज्यो के चुनावो के चलते लगभग ढाई से तीन महीने तक पेट्रोल, डीजल व गैस के दाम एक जगह पर रुके रहे थे। लेकिन चुनावी नतीजो के एकदम बाद से महंगाई ने फिर से अपना मुंह खोलकर डसना शुरू कर दिया है। सरकार की इस तरह की हरकतों से तो साफ पता चलता है कि मौजूदा भाजपाई केंद्र सरकार अंदर से कितनी कमजोर और डरी हुई सरकार है। उन्होंने दिल्ली की केजरीवाल सरकार को भी आड़े हाथों लेते हुए कहा कि दिल्ली सरकार चाहे तो अपने स्तर पर भी वेट या दूसरे अन्य टेक्स में कमी कर दिल्ली की जनता को महंगाई से राहत दे सकती है। जिसके लिए मासूम जनता को राहत प्रदान करने का जज़्बा होना चाहिए जोकि ना स्वयं केजरीवाल मे हैं और ना उनकी सरकार में है। आदेश ने केंद्र व दिल्ली दोनो सरकारों को एऔर बी टीम बताते हुए कहा कि पिछले 12 दिनों से लगातार बिना नागा तेल के दाम रोज बढ़ रहे है, घरेलू गैस पर 50 रुपये और कमर्शियल गैस पर 250 रुपये की एक मुश्त मार पड़ ही चुकी है लेकिन दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने महंगाई को लेकर एक शब्द भी आज तक नही बोला है। बल्कि दोनो ही सरकारें जहां महंगाई से जनता का ध्यान भटकाने के लिये कश्मीर फाइल्स नामक फ़िल्म को लेकर नफरती राजनीति करने में व्यस्त है। वहीं शहर की जनता महंगाई के कारण बुरी तरह पिस रही है।

Back to top button