अब मनचलों की खैर नही,यूपी में फिर से सक्रिय हुआ एंटी रोमियो स्क्वाड

लखनऊ।यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ की दोबारा सत्ता में वापसी हो गयी है और इसे के साथ मुख्यमंत्री योगी ने प्रदेश में महिला सुरक्षा को लेकर बेहद ही गंभीर है।सीएम पद की शपथ लेने के बाद शीर्ष अधिकारियों के साथ बैठक के बाद शुक्रवार को भी गृह विभाग की बैठक में उन्होंने साफ कहा है कि उत्तर प्रदेश में मनचलों के साथ जरा भी भी ढिलाई ठीक नहीं है। इसके बाद उनके निर्देश पर एंटी रोमियो स्क्वाड को फिर से सक्रिय कर दिया गया है। सभी जिलों में इस स्क्वाड से जुड़े पुलिस अधिकारी लड़कियों के स्कूल जाकर उनकी परेशानी पूछ रहे हैं, उनका फीडबैक ले रहे हैं।
उत्तर प्रदेश में मनचलों की जरा सा भी खैर नहीं है। सीएम योगी आदित्यनाथ के निर्देश के बाद प्रदेश में एक बार फिर से एंटी रोमियो स्क्वाड एक्टिव हो गया है। मनचलों को स्कूल, कालेज या फिर किसी भी स्थान पर देखते ही पुसिलकर्मी एक्टिव मोड में आ जाएंगे। चैत्र नवरात्रि के पहले ही दिन पुरे प्रदेश में मिशन शक्ति के तहत एंटी रोमियो एस्कॉर्ट चल रहा है। लखनऊ में तो डीसीएपी नार्थ एस चिनप्पा ने फोर्स के साथ यह अभियान चलाया है। इस दौरान एंटी रोमियो स्क्वाड ने आइटी कालेज तथा करामत गल्र्स कॉलेज की छात्राओं से फीड बैक लिया। इसी तरह से नेशनल पीजी कालेज तथा चारबाग में खालसा कालेज की छात्राओं से भी परेशानी का कारण पूछा गया है। पुलिस अफसरों ने बड़ी संख्या में छात्राओं के साथ बात भी की और उनके कालेज के बाहर खड़े कुछ युवकों से भी पूछताछ की गई। इसके बाद एंटी रोमियो स्क्वाड लखनऊ के नेशनल पीजी कॉलेज में भी गया। और वहां भी डीसीपी,एडीसीपी ने छात्राओं के साथ संवाद किया।
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ प्रदेश में किसी भी महिला या फिर युवती व बालिका से अभद्रता या छेड़छाड़ को लेकर बेहद गंभीर है। दूसरी बार प्रदेश की सत्ता संभालने के बाद शीर्ष अफसरों को उन्होंने अपनी वरीयता भी बता दी है। उन्होंने सूबे की बेटियों की सुरक्षा को लेकर बड़ा फैसला लिया। उनके निर्देश पर एक बार फिर पुलिस विभाग की टीमों को स्कूल और कालेजों के बाहर एंटी रोमियो स्क्वॉड को सक्रिय करने का निर्देश दिया गया है। जिसके बाद एंटी रोमियो स्क्वाड पूरे प्रदेश में एक्टिव हो गया है।

Back to top button