पीटीआई नेता का दावा करते हुए कहा – ‘प्रधानमंत्री इमरान खान की जान को खतरा’…

द ब्लाट न्यूज़। पाकिस्तानी सियासत में भारी खींचतान और संकट के बादलों के बीच घटनाक्रमों में तेजी से बदलाव के साथ सनसनीखेज बयान सामने आ रहे हैं। ताजा बयान पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के वरिष्ठ नेता फैसल वावदा का है, जिन्होंने दावा किया कि प्रधानमंत्री इमरान खान की जान खतरे में है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री की हत्या की साजिश रची जा रही है।

एक न्यूज चैनल पर बुधवार को फैसल वावदा ने कहा कि खतरे की आशंका के चलते इमरान को रैलियों के दौरान बुलेटप्रूफ शील्ड का इस्तेमाल करने की सलाह दी गई है लेकिन इमरान ने सभी खतरों को दरकिनार करते हुए कहा है कि अल्लाह ने जब उनकी मौत तय की होगी, तब ही वह इस दुनिया से जाएंगे।

पाकिस्तान में चल रहे सियासी संग्राम के बीच वावदा ने कहा है कि प्रधानमंत्री इस स्थिति का बहादुरी से सामना कर रहे हैं। वो देश को किसी के आगे भी झुकने नहीं देंगे। विदेश नीति पर इमरान खान के रुख पर सफाई देते हुए वावदा ने कहा कि अब पाकिस्तान किसी के युद्ध का हिस्सा नहीं बनेगा। देश का एयरबेस हमारे पड़ोसी देशों पर हमला करने के लिए किसी को भी नहीं दिया जाएगा। गौरतलब है कि इमरान खान की नीतियों के चलते बड़ी तादाद में सत्तारूढ़ पार्टी के नेता असंतुष्ट हैं। इस बीच, आमिर लियाकत हुसैन सहित कुल 22 असंतुष्ट पीटीआई नेताओं ने इस्लामाबाद के सिंध हाउस में विपक्षी गठबंधन के सत्र में हिस्सा लिया।

इससे पहले बुधवार को दिन में इमरान खान ने कहा था कि वो विदेशी वित्त पोषित साजिश पत्र को वरिष्ठ पत्रकारों और सहयोगी पार्टी के सदस्यों के साथ साझा करेंगे। इस्लामाबाद में ई-पासपोर्ट सेवाओं की शुरुआत के मौके पर उन्होंने कहा, पत्र उन तत्वों का खुलासा करेगा जो विदेशों से देश के खिलाफ साजिश कर रहे हैं।

कसाब का पता भारत को नवाज शरीफ ने बताया था
पाकिस्तान में गहराए राजनीतिक संकट के बीच एक बार फिर पड़ोसी मुल्क आतंकवाद को लेकर घिर गया है। प्रधानमंत्री इमरान खान के सबसे करीबी और गृह मंत्री शेख रशीद ने वर्ष 2008 मुंबई आतंकी हमलों में अपनी भूमिका से इनकार करने वाले पाकिस्तान की पोल खुद खोल दी। उन्होंने कहा कि अजमल कसाब का पता भारत को नवाज शरीफ ने दिया था। नवाज शरीफ ने भारत को कसाब का फरीदकोट का पता बताया था और अगर यह बात गलत साबित हो तो ‘जो चोर की सजा, वो मेरी सजा हो।’

Back to top button