अंडर-17 विश्व कप के स्थलों में कटौती करने पर फीफा अधिकारी ने कहा, ‘ कुछ भी संभव’ है

डे नाईट न्यूज़ । फीफा टूर्नामेंट के निदेशक जेमी यारजा ने मंगलवार को संकेत दिया कि विश्व संस्था इस साल के अंत में भारत में होने वाले आगामी फीफा अंडर-17 महिला विश्व कप के आयोजन स्थलों की संख्या को कम करने के लिए तैयार है। खास तौर पर यह पूछे जाने पर कि क्या फीफा आयोजन स्थलों की संख्या को मौजूदा पांच से घटाकर तीन करने पर विचार कर रहा है, यारजा ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘अभी कुछ भी संभव है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘अभी अंतिम मूल्यांकन नहीं हुआ है, ऐसे में कोई फैसला नहीं हुआ है। एआईएफएफ (अखिल भारतीय फुटबॉल महासंघ) के साथ मिलकर फीफा इस निरीक्षण के बाद कोई प्रस्ताव देगा।’’ यारजा ने कहा, ‘‘हमें यह देखना है कि हम कैसे टूर्नामेंट की सफलता की गारंटी दे सकते है और सभी प्रतिभागियो के स्वास्थ्य को खतरे में डाले बिना महिला फुटबॉल के विकास को मजबूत कर सकते हैं।’’

यारजा और उनके प्रतिनिधिमंडल ने यहां डीवाई पाटिल स्टेडियम का निरीक्षण किया, जो फीफा अंडर-17 महिला विश्व कप के आयोजन स्थलों में से एक है। वे यहां से भुवनेश्वर और गोवा के लिए रवाना होंगे। नवी मुंबई के अलावा, टूर्नामेंट को भुवनेश्वर, कोलकाता, अहमदाबाद और गुवाहाटी में खेला जाना है। यारजा ने यह भी कहा कि 2017 में भारत की मेजबानी में खेले गये फीफा पुरुष अंडर-17 विश्व कप ‘अब तक का सर्वश्रेष्ठ आयोजन’ था।

उन्होंने कहा, ‘‘मै व्यक्तिगत रूप से और फीफा भारत आकर बहुत खुश हैं। जिस अंडर-17 (पुरुष विश्व कप) को हमने भारत में आयोजित किया था, शायद अब तक का सबसे अच्छा अंडर-17 था। कम से कम फीफा के साथ मेरे 23 साल के कार्यकाल के दौरान तो यह अपने वर्ग का सर्वश्रेष्ठ आयोजन था।’’

Back to top button