संसदीय समिति ने कोविड के दौरान विकास को देखते हुए मंत्रालय से एनिमेशन, गेमिंग को बढ़ावा देने को कहा…

डे नाईट न्यूज़ । संसद की एक समिति ने सोमवार को सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय से आग्रह किया कि कोविड के मद्देनजर लॉकडाउन के दौरान विकास के ग्राफ को देखते हुए वह एनिमेशन, दृश्य प्रभाव, गेमिंग और कॉमिक्स (एवीजीसी) क्षेत्र को प्रोत्साहित करे।

संसद में पेश संचार एवं सूचना प्रौद्योगिकी संबंधी स्थायी समिति की रिपोर्ट के अनुसार, वह इस बात को नोट करके चिंतित है कि राष्ट्रीय एनिमेशन, दृश्य प्रभाव, गेमिंग एवं कॉमिक्स उत्कृष्टता केंद्र स्थापित करने की घोषणा के आठ वर्ष बाद भी इस पर अमल नहीं हो पाया है।

समिति ने कहा कि राष्ट्रीय एनिमेशन, दृश्य प्रभाव, गेमिंग एवं कॉमिक्स उत्कृष्टता केंद्र स्थापित करने की परियोजना वास्तव में वित्त वर्ष 2014-15 की बजट घोषणा का हिस्सा थी जिसके लिये 167.7 करोड़ रूपये की प्रशासनिक मंजूरी की बात कही गई थी और इसे वर्ष 2016- 17 से 2019-20 के दौरान चार वर्षों की अवधि में लागू किया जाना था।

वित्त वर्ष 2022-23 के अनुदान की मांगों संबंधी समिति के 34वें प्रतिवेदन में समिति ने इस बात पर चिंता व्यक्त की है कि करीब 8 वर्ष बाद भी राष्ट्रीय एनिमेशन, दृश्य प्रभाव, गेमिंग एवं कॉमिक्स उत्कृष्टता केंद्र स्थापित नहीं किया जा सका है।

समिति ने कहा कि एनिमेशन, दृश्य प्रभाव, गेमिंग और कॉमिक्स (एवीजीसी) क्षेत्र तेजी से बढ़ रहा है और खासतौर पर लॉकडाउन की अवधि में इसमें विकास देखा गया है।

रिपोर्ट के अनुसार, लोग वास्तव में गेमिंग उद्योग से जुड़े हैं और यह प्रति वर्ष 20 प्रतिशत की दर से बढ़ रहा है और मंत्रालय को इसे प्रोत्साहित करने की जरूरत है।

Back to top button