ओमीक्रॉन के साथ साथ ठंड ने भी दस्तक दे दी है सावधान हो जाईये!

DAY NIGHT NEWS LUCKNOW
मौसम विभाग के मुताबिक, अगले तीन दिन में जम्मू-कश्मीर, लद्दाख और हिमाचल प्रदेश में हल्की बारिश और बर्फबारी हो सकती है। गुरुवार या शुक्रवार को उत्तराखंड में भी बर्फ गिरने की आशंका है।
अगले 4 से 5 दिन के दौरान उत्तर-पश्चिम और मध्य भारत के अलावा गुजरात के ज्यादातर हिस्सों में न्यूनतम तापमान 2-4 डिग्री सेंटीग्रेड गिर सकता है। पूर्वी भारत और महाराष्ट्र में यह गिरावट 2 से 3 डिग्री सेंटीग्रेड की रहेगी। अगले दो दिन पंजाब और हरियाणा में सुबह घने या बहुत घने कोहरे का अनुमान जताया गया है। उत्तर-पश्चिमी राजस्थान, असम, मेघालय, नगालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा में भी 17 दिसंबर को बहुत घने कोहरे के हालात बनेंगे।
दिल्ली में सुबह न्यूनतम तापमान 8.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मौसम विभाग ने हल्के बादल छाने और बारिश का भी अनुमान जताया है। इससे अगले दो-तीन दिनों में पारा कुछ डिग्री नीचे आएगा। गुरुवार को दिन का अधिकतम तापमान 22 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहा। सुबह 8 बजे एयर क्वालिटी इंडेक्स 350 यानी बहुत खराब रहा।
अगले 5 दिन में देश के कई हिस्से शीतलहर की चपेट में आ सकते हैं। मौसम विभाग ने गुरुवार को उत्तर भारत, सौराष्ट्र और कच्छ में कड़ाके की सर्दी पड़ने का अनुमान जताया है। विभाग ने अपने डेली बुलेटिन में कहा कि देश के कुछ हिस्सों में तापमान गिरना तय है। 17 से 21 दिसंबर तक पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, सौराष्ट्र और कच्छ में शीतलहर के हालात बन सकते हैं। 18 से 21 दिसंबर तक उत्तरी राजस्थान में और 19 से 21 दिसंबर तक पश्चिम उत्तर प्रदेश में यही स्थिति रहेगी
उत्तरी कश्मीर में शीतलहर तेज हो गई है। टूरिस्ट प्लेस गुलमर्ग में इस सीजन का सबसे कम तापमान दर्ज किया गया है। स्कीइंग रिसॉर्ट में तो पारा शून्य से 10 डिग्री सेल्सियस नीचे पहुंच गया। हालांकि घाटी के दक्षिण और मध्य क्षेत्रों में कुछ राहत है।

श्रीनगर में बुधवार और गुरुवार की रात तापमान शून्य से 2.1 डिग्री सेल्सियस नीचे रहा। यह पिछली रात के शून्य से 3.9 डिग्री सेल्सियस कम तापमान से 1.8 डिग्री की वृद्धि थी, जो इस सर्दी में ग्रीष्मकालीन राजधानी में सबसे ठंडा तापमान दर्ज किया गया था। अमरनाथ यात्रा के बेस कैंप पहलगाम में न्यूनतम तापमान शून्य से 6.9 डिग्री सेल्सियस नीचे रहा।

Back to top button