केरल में ओमिक्रॉन से संक्रमित युवक कोरोना प्रोटोकॉल को तोड़ा और फिर। …..

DAY NIGHT NEWS LUCKNOW

देश में गुरुवार को कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन के 14 पॉजिटिव मरीज मिले हैं। कर्नाटक में सबसे ज्यादा 5 नए मरीज मिले हैं, जबकि तेलंगाना और दिल्ली में 4-4 मरीज और गुजरात में एक नया संक्रमित पाया गया है। देश में अब कुल ओमिक्रॉन से संक्रमितों की संख्या 87 पर पहुंच गई है।

कर्नाटक में एक ही दिन में ओमिक्रॉन के 5 नए संक्रमित मरीज मिलने की जानकारी राज्य के स्वास्थ्य मंत्री डॉ. सुधाकर के. ने ट्वीट के जरिए शेयर की है। अब राज्य में ओमिक्रॉन के कुल 8 मरीज हो गए हैं।

कर्नाटक में ओमिक्रॉन के 5 नए मरीजों में एक 19 वर्षीय लड़का है, जो ब्रिटेन से वापस लौटा है, जबकि दिल्ली से लौटे 36 साल के युवक काे सैंपल में भी नया वैरिएंट मिला है। दिल्ली से ही लौटी एक 70 साल की बुजुर्ग महिला भी ओमिक्रॉन संक्रमित पाई गई है। दो अन्य मरीजों में नाइजीरिया से लौटा 52 वर्षीय बुजुर्ग पुरुष और साउथ अफ्रीका से वापस आया 33 साल का युवक शामिल हैं।

केरल में कोरोना का कहर
देश में कोरोना प्रभावित वाला राज्य केरल ही है। देश में कुल कोरोना आंकड़ों में से आधा से ज्यादा संक्रमित मरीज यहीं से निकल रहे हैं। गुरुवार को कोरोना संक्रमण के 3,404 नए मामले सामने आए हैं और 320 लोगों की मौत हो गई। इसके साथ ही कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर  51,95,997 और मरने वालों का आंकड़ा 43,946 तक पहुंच गया है। 
स्वास्थ्य मंत्री वीणा जॉर्ज ने बताया कि विभाग युवक का रूट मैट जारी करेगा और उसके संपर्क में आए लोगों से अपील किया जाएगा कि वो जल्द से जल्द स्वास्थ्य विभाग से संपर्क करें और कोरोना टेस्ट करवाए। उन्होंने कहा कि ओमिक्रॉन वैरिएंट से संक्रमित होने पर जरुरी प्रोटोकॉल्स का नियम पूर्वक पालन करने बेहद ही जरूरी है। विशेषज्ञों की मानें तो ओमिक्रॉन वैरिएंट काफी तेजी से फैलता है। ओमिक्रॉन डेल्टा वैरिएंट से कई गुणा ताकतवर है। बताया जा रहा है कि यह वैरिएंट पूरे समुदाय को एक साथ अपनी चपेट में ले सकता है। 

केरल में ओमिक्रॉन से संक्रमित युवक कोरोना प्रोटोकॉल को तोड़कर मॉल, रेस्टोरेंट समेत मार्केट में जा पहुंचा है। संक्रमित युवक द्वारा मार्केट घूमने के बाद प्रशासन के हाथ पैर फूल गए हैं।  अब प्रशासन इस युवक के संपर्क में आए लोगों की लिस्ट तैयार करने में जुटा हुआ है। प्रशासन के सामने सबसे बड़ी चुनौती है कि संक्रमित युवक मॉल में किन-किन दुकानों में गया और उसके संपर्क में कितने लोग आए हैं। वहीं, जिस रेस्टोरेंट में वह खाना खाया है, उसके आसपास कितने लोग वहां मौजूद थे। 

ओमिक्रॉन वैरिएंट डेल्टा और सबसे पुराने कोविड-19 स्ट्रेन के मुकाबले 70 गुना तेजी से फैलता है। इसके बावजूद यह ज्यादा गंभीर नहीं है। यह दावा यूनिवर्सिटी ऑफ हॉन्ग-कॉन्ग ने किया है। दक्षिण अफ्रीकी डॉक्टरों ने भी ओमिक्रॉन की शुरुआत में ऐसा ही दावा किया था।

हॉन्ग-कॉन्ग यूनिवर्सिटी के मुताबिक, ओमिक्रॉन संक्रमण होने के 24 घंटे के अंदर इंसान की श्वसन नली में ओमिक्रॉन पाया गया। स्टडी में यह भी पाया गया कि डेल्टा वैरिएंट के मुकाबले नया वैरिएंट इंसानी फेफड़ों में रेप्लीकेट करने में 10 गुना कम प्रभावी है।

Back to top button