दो लाख मत्स्य पालकों को किसान क्रेडिट कार्ड की सुविधा देगी मौजूदा योगी सरकार

डे नाइट न्यूज ब्यूरो चीफ संजय कुमार यादव की रिपोर्ट

 गोरखपुर 13 दिसम्बर 2021

Day Night News
Netional News Network
GORKHAPUR

भारत सरकार एवं रिजर्व बैंक आफ इंडिया के दिशा निर्देशानुसार मत्स्य पालकों को किसान क्रेडिट कार्ड की सुविधा उपलब्ध कराने हेतु विशेष अभियान चलाकर प्रदेश के 2 लाख मत्स्य पालकों को के.सी.सी.  वितरण का लक्ष्य निर्धारित करते हुए शिविरों के आयोजन हेतु एस.ओ.पी. उपलब्ध कराया गया है जिसके क्रम में जनपद हेतु कुल लक्ष्य 4500 मत्स्य पालकों एवं मत्स्य विक्रेताओं आदि को के.सी.सी. के वितरण का लक्ष्य निर्धारित करते हुए विशेष साप्ताहिक कैम्पों का आयोजन कराया जाना है। इस हेतु चार सदस्यीय के.सी.सी. क्वार्डिनेशन कमेटी का गठन किया गया है जो जिलाधिकारी के निर्देशन में कार्य करेगी।
    यह जानकारी देते हुए जिलाधिकारी विजय किरन आनंद ने बताया है कि कमेटी प्रत्येक शुक्रवार को जिला अग्रणी प्रबंधक, भारतीय स्टेट बैंक विकास भवन सभागार में शिविर (कैम्प) करेंगे तथा प्राप्त आवेदन पत्रों के परीक्षणोपरान्त संबंधित बैंकों के प्रतिनिधियों को हस्तगत करायेंगे। समस्त आवेदन पत्रों का विवरण जिला अग्रणी प्रबंधक कार्यालय में रखा जायेगा जो आवेदन पत्र स्वीकृति योग्य है उसे तत्काल स्वीकृति प्रदान करने की कार्यवाही की जायेगी। प्रत्येक शुक्रवार को जनपद स्तर पर आयोजित शिविर में भाग लेकर संबंधित विभाग के नोडल अधिकारी निर्धारित विवरण केे अनुसार आयोजित विकास खण्डवार कैम्पों में अधिक से अधिक आवेदन पत्रों की प्राप्ति सुनिश्चित करेंगे एवं प्रत्येक शुक्रवार को जिला अग्रणी प्रबंधक के समक्ष गठित कमेटी रिपोर्ट प्रस्तुत करेगी। विकास खण्डवार कैम्प का समय प्रातः 11 बजे से अपरान्ह 3 बजे तक निर्धारित है।
    जिलाधिकारी ने आयोजित कैम्पों की तिथियों के संबंध में जानकारी देते हुए बताया है कि विकास खण्ड कैम्यिरगंज, जंगल कौड़िया, खजनी, बेलघाट, सरदारनगर में 9 एवं 31 दिसम्बर, 21 जनवरी, 11 फरवरी 2022, निर्धारित है। इसी प्रकार ब्रम्हपुर, चरगावा, भटहट, खोराबार एवं पिपराइच में 16 दिसम्बर, 7 एवं 16 जनवरी तथा 18 फरवरी निर्धारित है। विकास खण्ड सहजनवां, पाली, पिपरौली, बांसगांव, कौड़ीराम में 24 दिसम्बर, 9 तथा 28 जनवरी एवं 20 फरवरी निर्धारित है। विकास खण्ड गगहा, गोला, बड़हलगंज, उरूवा तथा भरोहिया में 30 दिसम्बर, 14 जनवरी एवं 4 तथा 28 फरवरी निर्धारित है। प्रत्येक विकास खण्ड हेतु 250 का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

Back to top button