परिवहन निगम के चालको एंव परिचालकों का हुआ नेत्र परीक्षण

गाज़ीपुर।राष्ट्रीय अंधता एवं दृष्टि क्षीणता नियंत्रण कार्यक्रम जिसको लेकर भारत सरकार के द्वारा इन दिनों कार्यक्रम चलाया जा रहा है। जिसके अंतर्गत आमजन की आंखों की जांच करना, जांच उपरांत ऑपरेशन और निशुल्क चश्मा प्रदान करना है। जिसको लेकर शासन के द्वारा 18624 का लक्ष्य दिया गया है। इसी के तहत गुरुवार को रोडवेज परिसर गाजीपुर में परिवहन निगम के बस ड्राइवर और कंडक्टर का नेत्र परीक्षण किया गया और उन्हें उचित परामर्श दिया गया।

एसीएमओ डॉ डीपी सिन्हा ने बताया कि शासन के द्वारा मोतियाबिंद ऑपरेशन कैंप लगाने और ऑपरेशन कर लोगों को निशुल्क चश्मा देने के लिए शासन के द्वारा निर्देश दिया गया है । इसी कड़ी में चल रहे सड़क सुरक्षा सप्ताह को लेकर रोडवेज परिसर में नेत्र परीक्षण का कैंप लगाया गया। जहां पर नेत्र परीक्षक छांगुर राम के द्वारा उत्तर प्रदेश परिवहन निगम में कार्यरत बसों के ड्राइवर और कंडक्टर का नेत्र परीक्षण किया गया। इस परीक्षण के दौरान जिन ड्राइवरों के आंखों में मोतियाबिंद की आशंका या कम दिखाई देने की समस्या बताई गई उन्हें डॉ डीपी सिन्हा के द्वारा उचित परामर्श भी दिया गया।

इस दौरान एआरएम रोडवेज बीके पांडे और एआरटीओ के आर आई संतोष पटेल सहित रोडवेज परिसर में कार्यरत कर्मचारी और अधिकारी मौजूद रहे।

Back to top button