केजरीवाल सरकार का फैसला अगले आदेश तक स्कूल बंद !

DAY NIGHT NEWS LUCKNOW

दिल्ली (एनसीआर) में पिछले एक महीने से प्रदूषण स्तर में लगातार बढ़ोतरी दर्ज की जा रही है. दिल्ली और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में वायु प्रदूषण थमने का नाम नहीं ले रहा है। कुछ इलाकों में यह लेवल 600 को पार कर गया. बीच में दो-तीन दिन सुधार के बाद दिल्ली-एनसीआर में वायु गुणवत्ता सूचकांक फिर डरावने स्तर पर पहुंच गया है। दिल्ली के आनंद विहार आईएसबीटी पर गुरुवार सुबह नौ बजे वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) ‘गंभीर’ श्रेणी में 448 दर्ज किया गया। इस दौरान राष्ट्रीय राजधानी में धुंध छाई रही। सड़कों पर वाहनों की रफ्तार धीमी रही। दिल्ली में प्रदूषण के मामले पर सुप्रीम कोर्ट की फटकार के बाद प्रदेश सरकार ने गुरुवार को राज्य में सभी स्कूल अगले आदेश तक बंद करने का आदेश दे दिया है। प्रदेश के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने यह जानकारी दी।
कोर्ट में गुरुवार को भी सुनवाई हुई, जिसमें स्कूलों के खुले होने का मुद्दा उठा. सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली सरकार को फटकार लगाते हुए पूछा कि प्रदूषण के बीच
स्कूलों को क्यों खोल दिया गया? सुप्रीम कोर्ट ने पूछा कि बड़े लोग घर से काम कर रहे हैं, ऐसे में बच्चे सुबह धुंध में स्कूल क्यों जा रहे हैं?
कोर्ट ने कहा कि आप कह रहे हैं कि बच्चे के अभिभावक अगर स्कूल भेजना चाहते हैं तो भेजें, नहीं तो न भेजें. सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली सरकार से कहा है कि वह स्कूल और दफ्तर खोलने को लेकर अपना पक्ष रखे. सुप्रीम कोर्ट की कड़ी फटकार के बाद दिल्ली सरकार ने स्कूलों को बंद करने का फैसला लिया है. 

Back to top button