हाई कोर्ट का जज बन, ठगी करने वाला शातिर गिरफ्तार


गाजीपुर पुलिस द्वारा मा0 उच्च न्यायालय के जज के नाम पर ठगी करने वाला शातिर अभियुक्त गिरफ्तार

पुलिस अधीक्षक गाजीपुर द्वारा अपराध एवं अपराधियों के विरूद्ध चलाये जा रहे अभियान के तहत, पुलिस अधीक्षक नगर व क्षेत्राधिकारी नगर गाजीपुर के निर्देशन में आज दिनांक 26/11/2021 को 01 अभियुक्त को गिरफ्तार किया गया । गिरफ्तार अभियुक्त तौसीफुल हक द्वारा जनपद गाजीपुर मे नियुक्त निरीक्षक रहमतुल्लाह खाँ के मो0नं0 पर पिछले कुछ दिनो से अपने दूरभाष से 1,30,000/-रू0 की मांग की जा रही थी, तथा निरीक्षक रहमतुल्लाह खाँ की शिकायत उच्चाधिकारियों को फर्जी ई0-मेल आई0डी0 बनाकर मा0 उच्च न्यायालय इलाहाबाद के न्यायाधीश के नाम से फर्जी शिकायत की मेल निरीक्षक रहमतुल्लाह खाँ के विरूद्ध की गयी तथा इसी बात की धमकी देकर कि प्रकरण मा0 उच्च न्यायालय के न्यायाधीश से सम्बन्धित है । अभियुक्त तौसीफुल हक द्वारा 1,30,000/-रू0 मामले के निस्तारण हेतु बार- बार मांगा जा रहा था । जिस पर निरीक्षक रहमतुल्लाह खाँ द्वारा उच्चाधिकारियों से वार्ता कर स्वाट /सर्विलांस टीम प्रभारी से वार्ता के साथ तथा अभियुक्त जो कि उपरोक्त के क्रम में पैसे लेने के लिये लंका बस स्टैण्ड जनपद गाजीपुर आया था को उसके द्वारा बताये गये स्थान लंका बस स्टैण्ड के पास पहुँच कर उसके द्वारा बतायी गयी कार UP32HQ3830 के पास पहुँच कर निरीक्षक रहमतुल्लाह खाँ उससे वार्ता करने लगे । इसी बीच स्वाट टीम द्वारा घेरा बन्दी की गयी तो वह भागना चाहा लेकिन आवश्यक बल का प्रयोग करते हुए लंका स्टेशन रोड तिराहे के पास अभियुक्त को गिरफ्तार कर लिया गया । अभियुक्त की जामा तलाशी से घटना में प्रयुक्त दोनो मोबाइल फोन मय सिम बरामद किया गया । अभियुक्त के पास से बरामद फोन से ही निरीक्षक रहमतुल्लाह खाँ को फोन किया जा रहा था जिनका नंबर अभियुक्त के मोबाइल के काल लाग में मौजूद है । जिसके संदर्भ में थाना कोतवाली गाजीपुर पर मु0अ0सं0 610/2021 धारा 420/384/467/468/471/170 IPC व 66D I.T Act. का अभियोग पंजीकृत किया गया । अभियुक्त की जामा तलाशी से घटना में प्रयुक्त दोनो मोबाइल फोन मय सिम बरामद किया गया । 

विवरण पूछताछ -पूछताछ के दौरान अभियुक्त तौसीफुल हक द्वारा बताया गया कि मैं फर्जी आई0डी0 बनाकर फर्जी नंबर लेकर उच्चाधिकारियों को मेल करके नौकरी करने वाले लोगों को नौकरी करने जाने का भय दिखाकर पैसे वसूलता था जो लोग पैसे नहीं देते थे उनके खिलाफ लगातार उच्चाधिकारियों को मेल व शिकायत भेजता रहता था । इससे पूर्व भी मैं दिल्ली में लखनऊ में व अयोध्या में इसी प्रकार के मामलो में जेल जा चुका हूँ । जिस सिम का मैं प्रयोग करता था वह मैं ज्यादा पैसे देकर फर्जी आई0डी0 पर लिया हूँ जो मेरे पास से बरामद हुआ है ।

गिरफ्तार अभियुक्तः
 तौसीफुल हक पुत्र स्व0 फरीदुल हक निवासी म0नं0 C51/गंगा बिहार विकल्प खण्ड थाना चिनहट जनपद लखनऊ ।
आपराधिक इतिहास-
• मु0अ0सं0 0610/2021 धारा 420/384/467/468/471/170 IPC व 66D I.T.Act. थाना कोतवाली गाजीपुर
• मु0अ0सं0 289/2020 धारा 419/420 IPC थाना विभूति खण्ड लखनऊ ।
• मु0अ0सं0 003/2021 धारा 170/420/467/468/471 IPC व 66D I.T. Act. थाना रूदौली जनपद अयोध्या
बरामदगी का विवरणः-
 घटना में प्रयुक्त एक अदद मोबाइल मल्टीमीडियां मय सिम नोकिया कम्पनी का ।
 घटना में प्रयुक्त एक अदद की पैड मोबाइल मय सिम ओथो कम्पनी का ।
 वाहन सं0 आई0-10 कार UP32HQ3830
गिरफ्तार करने वाली टीमः-
 उ0नि0 राकेश कुमार सिंह प्रभारी स्वाट/सर्विलांस टीम गाजीपुर
 उ0नि0 सुनील कुमार तिवारी, स्वाट टीम गाजीपुर
 हे0का0 प्रो0 संजय कुमार पटेल, हे0का0 रामभवन, हे0का0 रामप्रताप सिंह, हे0का0 अमित सिंह, हे0का0 संजय रजावत, का0 संजय प्रसाद, का0 आशुतोष सिंह, का0 दिनेश कुमार, का0 चन्दनमणि त्रिपाठी, का0 प्रमोद कुमार, का0 चालक ओमप्रकाश सिंह, स्वाट टीम/सर्विलांस टीम गाजीपुर, का0 मुकेश कुमार, का0 अनुज कुमार साइबर सेल, गाजीपुर।

Back to top button