छात्रों ने लिया खुले में शौच न करने का संकल्प

गोरखपुर, उत्तर प्रदेश।

आदर्श प्राथमिक विद्यालय नदुआ खोराबार में अध्ययनरत 205 छात्रों ने खुले में शौच न करने का संकल्प लिया। उन्हें हाथों की स्वच्छता (हैंडवाशिंग) के साथ शारीरिक स्वच्छता का पाठ पढ़ाया। सभी छात्रों को दो-दो साबुन, एक मास्क और बिस्कुट के पैकेट वितरित किए गए। हेरिटेज फाउंडेशन, इनबुक फाउंडेशन और जिला पंचायत राज अधिकारी हिमांशु शेखर ठाकुर की ओर से गुरुवार को आयोजित कार्यक्रम की विद्यालय के प्रधान अध्यापक एवं शिक्षकों ने भी सराहना की।
विद्यालय में छात्रों से डिजिटल बाबा स्वामी रामशंकर ने भी संवाद किया। उन्हें साफ सफाई के प्रति प्रेरित किया। हेरिटेज फाउंडेशन से मनीष चौबे और इनबुक फाउंडेशन की एडवोकेट नलिनी मिश्रा छात्रों को प्रेरित किया कि घर में बनाए गए शौचालय का ही इस्तेमाल करें। खाना खाने और खाना खाने के बाद हाथों को कम से कम 20 मिनट तक साबुन लगा कर साफ पानी से जरूर धोए। हाथ के नाखुन में गंदगी न रहने दे। दूसरों को भी हाथों की सफाई करने और खुले में शौच न करने के लिए प्रेरित करें। परिवार में गाली देने वाले बड़ों को समझाएं कि ऐसा करना अच्छा नहीं है। खुद भी किसी को गाली न दें। छात्रों भी विद्यालय में आए सामाजिक कार्यकर्ताओं के खुल का संवाद किया। नलिनी ने कैफे सोशल मैग्जीन कर प्रतियां भी विद्यालय के शिक्षकों को उपलब्ध कराई। विद्यालय के प्रधानाध्यापक महेंद्र प्रताप पाण्डेय ने हेरिटेज फाउंडेशन एवं इनबुक फाउंडेशन की इस पहल की सराहना करते हुए दूसरों के लिए अनुकरणीय बताया। इस दौरान हेरिटेज फाउंडेशन की संरक्षिका डॉ अनिता अग्रवाल, ट्रस्टी अनिल तिवारी, नरेंद्र कुमार मिश्र, सामाजिक कार्यकर्ता राघव कन्नौजिया, विद्यालय की सहायक अध्यापिका स्मिता त्रिपाठी, ऋचा सिंह, वंदना तिवारी, विनीता सिंह, रंजना राय, डिम्पल मिश्रा, ऋचा सिंह, सुषमा तिवारी, निधि सिंह, शिक्षा मित्र नवल किशोर मौर्य, शत्रक्षा मित्र शालिनी देवी, रसोईया अनीता देवी, निर्मला देवी, उर्मिला और मुन्नी देवी भी मौजूद रहीं।

Back to top button