पुलिस और लुटेरों में मुठभेड़,दो बदमाश घायल।

ग़ाज़ीपुर:पुलिस अधीक्षक रामबदन सिंह बदमाशों पर टूटकर बरसने का मन बना चुके है पुलिस अधीक्षक की मॉनिटरिंग में नंदगज की लूट की घटना का अनावरण 8 घण्टे में ही हो गया।
बुधवार की सुबह नंदगंज थाना क्षेत्र के तलबल मोड़ के पास जनसेवा केंद्र पर संचालक अवकाश बिंद को बाइक सवार तीन बदमाशों ने पिस्टल सटाकर उसके काउंटर में रखे बैग से भरे 1 लाख 80 हजार रुपये सहित स्वाइप मशीन और अन्य सामान लूट लिए।मौके पर पहुचें पुलिस पुलिस अधीक्षक रामबदन सिंह ने घटना का त्वरित अनावरण के लिए नंदगज एसओ सतेंद्र कुमार राय सहित स्वाट टीम प्रभारी राकेश कुमार सिंह को निर्देशित किया।
पुलिस अधीक्षक राम बदन सिंह ने बताया कि लूट की घटना का वर्कआउट के लिए आज बदमाशों की तलाश की जा रही थी। इसी क्रम में नंदगज थानाध्यक्ष और स्वाट टीम प्रभारी को कुसुमीकला के पास दो संदिग्ध बाइक सवारों को पुलिस ने रोकना चाहा तो उन्होंने पुलिस टीम पर फायर झोंक दिया
और करंडा की तरफ भागने लगे।पुलिस की टीम भी एलर्ट मोड़ में आकर बदमाशों का पीछा करने लगी और कोतवाली के साथ -साथ करंडा पुलिस को बदमाशों घेराबंदी करने के लिए सूचना दे दिया।कोतवाली थाना क्षेत्र के जंजीरपुर मोड़ के पास बदमाशों की बाइक फिसलकर गिर गई जिसके बाद दोनों बदमाशों ने पुलिस पर फायर झोंक दिया
नंदगंज थानाध्यक्ष के बुलेटप्रूफ जैकेट पर 2 गोलियां लगी। जवाबी कार्यवाही में पुलिस की गोली से दोनों बदमाश के पैर में गोली लगी है और वे जख्मी हो गए, जिन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। बदमाशों के पास से एक पिस्टल, एक कट्टा, बाइक तथा बैंक मित्र से लूटा गया रुपयों से भरा झोला बरामद किया गया है। बरामद झोले में लूट की पूरी रकम एवं अन्य सामान भी बरामद हुए हैं। पुलिस अधीक्षक रामबदन सिंह ने बताया कि गिरफ्तार बदमाशों की पहचान नगसर थाना क्षेत्र के नूरपुर (गोहदा) निवासी राजन पांडेय और किशन जायसवाल के रूप में हुई है। दोनों के पैर में गोली है।

Back to top button