जनपद संत कबीर नगर शिक्षा जगत के महानायक पूर्वांचल के मालवीय पंडित सूर्यनारायण चतुर्वेदी की अमर गाथा _स्मृति शेष

डे नाइट न्यूज़ ब्यूरो चीफ संजय कुमार यादव की रिपोर्ट

जनपद संत कबीर नगर दिनांक 02/10/2021

तृतीय पुण्यतिथि 3 अक्टूबर श्रद्धांजलि

शिक्षा जगत के महानायक पूर्वांचल के मालवीय पंडित सूर्यनारायण चतुर्वेदी की अमर गाथा _स्मृति शेष

Day Night News

Netional News Network

Sant kabir Nagar

शिक्षा जगत के महानायक पूर्वांचल के मालवीय पंडित सूर्यनारायण चतुर्वेदी के दृढ़ इच्छा शक्ति एवं संघर्ष की अमर गाथा

गरीबी मुफलिसी की चुनौती को स्वीकार कर अपनी दृढ़ इच्छाशक्ति कर्तव्य निष्ठा की बदौलत पूर्वांचल में अपनी अलग पहचान बनाने वाले महान योद्धा ने बड़े ही खामोशी के साथ 3अक्टूबर 2018 को दुनिया को अलविदा कह दिया और समाज को नई दिशा देने के लिए अभूत आधारशिला छोड़ गए।

इसी आधारशिला को तैयार करने के लिए उनके द्वारा किए गए संघर्ष में एक बड़ी दास्तान छुपी हुई है।

सन 1950 ईस्वी में संत कबीर नगर के तब( बस्ती जिला) के महोली थाना क्षेत्र में ग्राम भिटवा मैं पंडित सूर्यनारायण चतुर्वेदी का जन्म हुआ था।
इनके पिता का नाम पंडित अंबिका प्रताप नारायण चतुर्वेदी व माता का नाम श्रीमती चंद्रकली देवी चतुर्वेदी जब मात्र 5 वर्ष के थे तभी इनके पिता का देहावसान हो गया और उनके बड़े भाई वशिष्ठ मुनि चतुर्वेदी और गोमती प्रसाद चतुर्वेदी व मां के आंचल के छाव में पले बढ़े।
पंडित सूर्यनारायण चतुर्वेदी बड़े ही मेधावी विद्यार्थी इनकी स्नातक की शिक्षा हीरालाल रामनिवास पीजी कॉलेज खलीलाबाद और पराई स्नातक की शिक्षा गोरखपुर विश्वविद्यालय से तथा b.Ed की शिक्षा रतन सेन डिग्री कॉलेज बांसी से हुई।
पंडित सूर्यनारायण चतुर्वेदी ने समय से ही पहले परिवार व समाज के प्रति अपनी जिम्मेदारियों को लेकर चिंतित रहने लगे इसी चिंता वह सोच के कारण ग्रामीण क्षेत्र के बच्चों को शिक्षा से वंचित होता देख मात्र 30 वर्ष उम्र में ही सन 1980 में अपने पैतृक गांव के बगल में ग्राम पर्वतवा में बाबा पर्वत नाथ इंटर कॉलेज की नींव रखी,धीरे-धीरे शिक्षा के क्षेत्र में उनके द्वारा किया गया कारवां बढ़ता गया और सन 2002 _03 मैं उन्होंने ग्रामीण आंचल में देखा कि हां छात्र-छात्रा उच्च शिक्षा से वंचित हो रहा है तो उन्होंने इसी वर्ष में पंडित अम्बिका प्रताप नारायण स्नातक उत्तर महाविद्यालय डुमरी हरिहरपुर संत कबीर नगर जैसे उच्च संस्थान की स्थापना की है।
इसके बाद पंडित सूर्यनारायण चतुर्वेदी कवि पीछे मुड़कर नहीं देखें और लगभग संत कबीर नगर जिले में 3 दर्जन से अधिक उच्च शिक्षण संस्थान उनके द्वारा स्थापित किए गए।
जिसमें बी.ए ,बी. कॉम, बीएससी, एम कॉम, एम ए, एमएससी, बी एड,बी पी एड, बीटीसी,एम एड, आदि पाठ्यक्रमों की पढ़ाई हो रही है जिससे जिले के ही नहीं पूरे पूर्वांचल के युवा लाभवंतित हो रहे हैं।

संत कबीर नगर जिले में शैक्षणिक क्रांति के बाद पंडित सूर्य नारायण aचतुर्वेदी बस्ती जिले में भी शिक्षा का अलख जगाने के लिए अपना कदम आगे बढ़ाया
आपने क्षमताओं व संसाधनों यह अपनी दृढ़ इच्छाशक्ति की बदौलत वर्ष 2006_07 में बस्ती जनपद मुख्यालय से सटे ग्राम जामडी में जी एस पी जी कॉलेज की स्थापना किए और धीरे-धीरे बस्ती जिले में उनका यह कारवां आगे बढ़ा और 30 दिनों के अंदर ही बस्ती शहर यो basti शहर से सटे इलाकों में 1 दर्जन से अधिक शिक्षण संस्थानों की स्थापना की है और बस्ती जिले में भी शिक्षा की ज्योति जला कर वहां भी शिक्षा के मालवीय कहे जाने लगे।

राजनैतिक सफर
पंडित सूर्य चतुर्वेदी ने तमाम शिक्षण संस्थानों की स्थापना के साथ ही राजनीतिक में भी अपनी चमक दिखाएं उन्होंने अपने भतीजे दिग्विजय नारायण उर्फ जय चौबे को राजनीति के क्षेत्र में आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया और वर्ष 2000 में उन्होंने जिला पंचायत सदस्य और जिला पंचायत उपाध्यक्ष की कुर्सी दिलाने में अहम भूमिका निभाई इसके बाद 2006 में जिले के अपने समय के दिग्गज नेता के पुत्र को ब्लाक प्रमुख पद पर बुरी तरह पटनी देने के बाद पुणे जय चौबे को ब्लॉक प्रमुख खलीलाबाद की कुर्सी दिलवाए।
इसके बाद 2010 में उनका राजनैतिक सितारा और चमका और अपने छोटे बेटे राकेश चतुर्वेदी को नाथनगर ब्लॉक जैसे राजनीतिक अखाड़े का निर्विरोध ब्लाक प्रमुख बनाएं।
आज वह बस्ती लोकसभा सीट के लिए भाजपा से टिकट का प्रबल दावेदार है।
और वर्ष 2017 के विधानसभा चुनाव में खलीलाबाद सदर से अपने भतीजे जय चौबे को विधायक बनवा कर अपने राजनैतिक ताकत का लोहा मानवाये।
पंडित सूर्यनारायण चतुर्वेदी ने अपने पीछे छोड़ गए।
बहुत बड़ा साम्राज्य भरा पूरा परिवार _ परिवार के एक साथ चलने की उनकी सोच अंतिम तक कामयाब रहे इनके बड़े भाई वशिष्ठ मुनि चतुर्वेदी सह परिवार दिल्ली में रहकर बहुत बड़ा कारोबार करते हैं तथा दूसरे बड़े भाई गोमती प्रसाद चतुर्वेदी रिटायर्ड डाक कर्मी है।

पंडित सूर्य नारायण चतुर्वेदी के बड़े बेटे DA uday प्रताप चतुर्वेदी सूर्य इंटरनेशनल ऐकडमी खलीलाबाद के मैनेजिंग डायरेक्टर और छोटे बेटे अजय प्रताप नारायण उर्फ राकेश चतुर्वेदी एसआर ऐकडमी नाथनगर संत कबीर नगर के मैनेजिंग डायरेक्टर हैं।
इनके तीन पुत्रियां संध्या चतुर्वेदी, कंचन चतुर्वेदी, व कुसुम चतुर्वेदी शादी के बाद अपने ससुराल में इस समय परिषदीय विद्यालयों में शिक्षिका है।
और बहू बड़ी बहु सविता चतुर्वेदी शिक्षण संस्था के संचालन में अपने पति का हाथ बढ़ाती हैं।

संत कबीर नगर में संचालित होने वाले शिक्षण संस्थान
(1)बाबा पर्वत नाथ इंटर कालेज, परबत वा विश्वनाथ, संत कबीर नगर ( स्थापित 1980)

(2) पंडित अंबिका प्रताप नारायण किसान इंटर कॉलेज डुमरी हरिहरपुर संत कबीर नगर (स्थापित 1996)

(3) जीपीएस बालिका इंटर कॉलेज खलीलाबाद संत कबीर नगर (स्थापित 1998)

(4) पंडित अंबिका नारायण पीजी कॉलेज डुमरी हरिहरपुर संत कबीर नगर (स्थापित 2002)

(5) जीपीएस पीजी कॉलेज खलीलाबाद ( स्थापित2004)

(6) बाबा पर्वत नाथ पीजी कालेज पर्वतवा संत कबीर नगर (स्थापित 2005)

(7) पंडित सूर्य नारायण चतुर्वेदी पीजी कॉलेज नाथनगर स्थापित 2006

(8) सुभी देवी महिला महाविद्यालय खलीलाबाद संत कबीर नगर स्थापित 2007

(9) ए .बी .आर. एल. पीजी कॉलेज गिठिनी संत कबीर नगर स्थापित 2003

(10) श्रीमती चंद्रावती देवी महाविद्यालय तामेश्वर नाथ संत कबीर नगर (स्थापित 2010)

(11) पंडित रजत डिग्री कॉलेज मझौवा पर्वतवा विश्वनाथपुर संतकबीरनगर (स्थापित 2012)

(12) पंडित अंबिका प्रताप नारायण चतुर्वेदी महिला पीजी कॉलेज डुमरी हरिहरपुर स्थापित 2012

(13) बाबा पर्वत नाथ औद्योगिक प्रशिक्षण केंद्र विश्वनाथ संत कबीर नगर (स्थापित 2012)

(14) सूर्या कॉलेज आफ एजुकेशन मीरगंज (स्थापित 2014)

(15) डॉ उदय प्रताप नारायण चतुर्वेदी कॉलेज आफ एजुकेशन विश्वनाथ संत कबीर नगर( स्थापित 2014)

(16) बाबा पर्वत नाथ बीटीसी ट्रेनिंग कॉलेज पर्व तवा विश्वनाथ पुर संत कबीर नगर ( स्थापित 2012)

(18) पंडित अंबिका प्रताप नारायण बीटीसी ट्रेनिंग कॉलेज डुमरी हरिहरपुर संत कबीर नगर स्थापित 2012

(19) जीपीएस बीटीसी ट्रेनिंग कॉलेज खलीलाबाद संत कबीर नगर 2012

(20) सूर्या इंटरनेशनल एकेडमी खलीलाबाद संत कबीर नगर स्थापित 2012

(21) एसआर इंटरनेशनल एकेडमी नाथनगर संत कबीर नगर स्थापित 2017

(22) सूर्या होम्योपैथिक फार्मेसी कॉलेज खलीलाबाद संत कबीर नगर स्थापित 2017

(23) अखंड प्रताप नारायण कॉलेज आफ एजुकेशन मैनसिर संत कबीर नगर स्थापित 2014

(24) पंडित सूर्यनारायण चतुर्वेदी विधि महाविद्यालय खलीलाबाद संत कबीर नगर स्थापित 2009

बस्ती जनपद में संचालित होने वाले शिक्षण संस्थान

(1) जीएस स्नातकोत्तर महाविद्यालय जामडीह बस्ती स्थापित 2008

(2) पूर्वांचल डिग्री कॉलेज मुण्डेरवा बस्ती स्थापित 2008

(3) पंडित राजन महिला डिग्री कॉलेज पचपेडिया स्थापित 2012

(4) राकेश चतुर्वेदी डिग्री कॉलेज दश्कोलवा बस्ती स्थापित 2018

(5) जी एस बी टी सी ट्रेनिंग कॉलेज जामडीह बस्ती स्थापित 2018

(6) रजत राजन महिला बीटीसी कॉलेज पचपेडिया बस्ती 2014

(7) पूर्वांचल बीटीसी ट्रेनिंग कॉलेज मुंण्डेरवा बस्ती स्थापित 2014

(8) जी एस होम्योपैथिक फार्मेसी कॉलेज जामडीह बस्ती स्थापित 2017

(9) पंडित रजत राजन बालिका इंटर कॉलेज पचपेडिया बस्ती स्थापित 2016

(10) जी एस इंटर कॉलेज जामडीह बस्ती स्थापित 2016

(11) अजय प्रताप नारायण चतुर्वेदी इंटर कालेज दास्कोलवा बस्ती स्थापित 2016

(12) पंडित राजन ला कॉलेज चौबेपुर पचपेडिया बस्ती स्थापित 2015
आदि।
3 अक्टूबर को तृतीय पुण्यतिथि श्रद्धांजलि निवास स्थान भीटवा में होगा।

Back to top button