राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद का प्रतिनिधिमंडल मिला डीएम और एसपी से,भ्रष्ट खंडशिक्षा अधिकारी के खिलाफ जांच की मांग

राज्य कर्मचारी सन्युक्त परिषद का प्रतिनिधि मण्डल डी एम व एस पी से मिला।
गाज़ीपुर।करण्डा ब्लाक के खण्ड बिकास अधिकारी के रमेश श्रीवास्तव के भ्र्ष्टाचार की जाँच कराने की मांग।
शिक्षक नेता की हत्या साजिश रचने के लिए प्राथमिकी दर्ज कर जाँच कराने की अपील।
कार्यवाही न होने पर आंदोलन की चेतावनी।
गाजीपुर,राज्य कर्मचारी सन्युक्त परिषद का एक शीर्ष प्रतिनधि मण्डल जिलाध्यक्ष अम्बिका दुबे के नेतृत्व में जिलाधिकारी, एम पी सिंह,व पुलिस अधीक्षक ओ पी सिंह से मिलकर करण्डा ब्लाक के चर्चित खण्ड शिक्षा अधिकारी रमेश श्रीवास्तव बिरुद्ध आवेदन पत्र दे कर उनके द्वारा किये जा रहे भ्र्ष्टाचार, उत्पीड़न,धनउगाही करने शिक्षक नेता अनन्त सिंह की हत्या की साजिश रचने एवं तथाकथित चैनल के स्वयंभू पत्रकारों को सुविधा शुल्क देकर फर्जी समाचार प्रकाशित करने की जांच कराये जाने की माँग की।पीड़ित शिक्षकों ने जिलाधिकारी को बताया ऊक्त चर्चित अधिकारी विद्यालयों का निरीक्षण कर पहले बिना कार्यालय पत्रांक के उन्हें नोटिस भेजता है फिर उन्हें बी आर सी पर बुलाकर अपने चहेतों के माध्यम से धन उगाही करता है ,शिक्षकों में पुरुष हो चाहे महिला सभी के अमर्यादित शब्दों का प्रयोग कर सार्वजनिक स्थलों पर अपमानित करता है, प्रताड़ित शिक्षकों ने जब अपनी वेदना शिक्षक नेता अनन्त सिंह को बताया तो यह अधिकारी उन्हें भी धमकी दिया और कहा कि वर्तमान डी एम से हमारे बहुत अच्छे सम्बन्ध हैं तुम लोगों की नेतागिरी समाप्त कर दूँगा।साथ ही अपने चहेतों के माध्यम से ऊक्त शिक्षक नेता की हत्या कराने की साजिश रचने लगा जिसकी आडियो वायरल हो चुकी है।जिलाधिकारी को प्रतिनधि मण्डल ने 28 पृष्ठ का सबूत भी डी एम को सौंपा।जिलाधिकारी ने कर्मचारी शिक्षक नेताओं को आश्वस्त किया कि दोषी के बिरुद्ध कठोरतम कार्यवाही की जाएगी।
प्रतिनधिमण्डल में जिला मंत्री ओमप्रकाश यादव,सूर्यभानु राय,इ सुरेन्द्र प्रताप,प्रमोद उपाध्याय, बिजय नारायण यादव,सुभाष सिंह, आनन्द सिंह,मनीष सिंह,महेंद्र यादव,राम विलास कुशवाहा,संतोष कुशवाह,राजेश्वर चौहान,इ जीतेन्द्र यादव,सुधाकर सिंह ,प्रदीप सिंह ,अखिलेश सिंह, हरिद्वार सिंह, सहित दर्जनों बिभाग के कर्मचारी शिक्षक नेता शामिल रहे। राष्टीय शैक्षिक महासंघ , यूनाईटेड टीचर्स एसोसिएशन , शिक्षा मित्र संघ , पुर्व माध्यमिक शिक्षक संघ, टेट प्राथमिक शिक्षक वेलफेयर एसोसिएशन तपसा, इंजीनियर्स महासंघ आदि ने शिक्षक कर्मचारियों के संघर्ष में हर संभव मदद देने का आश्वासन दिया।

Back to top button