“अड्डा चरसी चाय” नाम ही काफी है…FIR दर्ज!

DAY NIGHT NEWS LUCKNOW

BUREAU REPORT

नवाबों के शहर लखनऊ में खाने पीने की हर चीज आपको मिल ही जाती है। हमारा शहर उत्तर प्रदेश ही नहीं बल्कि देश विदेश में भी अपने लखनवी अंदाज के लिए मशहूर है लेकिन कुछ ऐसे भी लोग हैं जो पैसे कमाने की आड़ में किसी भी हद तक गिर जाते हैं। ऐसी ही एक सूचना हमारी टीम को आज मिली की चाय के नाम पर नवयुवकों एवं स्कूल के छात्र छात्राओं को नशीले एवं मादक पदार्थों का सेवन कराया जा रहा है। आखिर यह कौन सी चाय की दुकान है जहां इस तरह का मादक पदार्थ बेचा जा रहा है,जहाँ समाज के नवयुवकों को चाय की आड़ में गलत लत लगाई जा रही है। लखनऊ के आशियाना थाने में दर्ज हुई एक FIR से यह जानकारी मिली कि आशियाना के अन्नपूर्णा कॉन्प्लेक्स में एक व्यापारी “अड्डा चरसी चाय” के नाम से अपनी चाय की दुकान चला रहा है जहाँ चाय की आड़ में लखनऊ की युवा पीढ़ी को एवं स्कूल के छात्र छात्राओं को नशीले मादक पदार्थ बेचता है। हालाकिं “अड्डा चरसी चाय” नाम ही काफी है …

आखिर किसकी आड़ में इतना बड़ा मादक पदार्थ का व्यापार चल रहा है कौन है इन सब के पीछे जो इन्हें बढ़ावा दे रहा है। आसपास के लोगों द्वारा मिली जानकारी के अनुसार यहाँ “मेगा टी स्टाल” के नाम पर पहले भी नशे का कारोबार चला करता था और नशे की हालत में दो पक्षों में गोलियां भी चल चुकी हैं जिसकी रिपोर्ट पहले ही नजदीकी थाने में दर्ज कराई जा चुकी है। अवैध तरीके से नशीले मादक पदार्थ इस तरह खुलेआम बिकने से कभी भी अप्रिय घटनाएं घटित हो सकती हैं ऐसे में आस -पास के लोगों द्वारा जब ऐसा गलत काम करने से रोका गया तो “अड्डा चरसी चाय” का मालिक लोगों को मारने-पीटने की धमकी देता है साथ ही अपने दरोगा पिता की भी धमकियां देता है और कहता है की मेरा कोई कुछ भी बिगाड़ नहीं सकता और खुले आम अपनी दुकान चलाता है।
शायद इनके दरोगा पिता को भी इस बात की जानकारी न हो की उनका बेटा अपने पिता की वर्दी की आड़ में चाय के साथ नशे का व्यापार देश की युवा पीढ़ी में चंद रुपयों के लिए फैला रहा है। जो निश्चित रूप से इनके बेटे का भविष्य भी संकट में डाल सकता है।
जल्द ही यदि ऐसे नशेड़ी व्यापारियों पर अंकुश नहीं लगाया गया तो हमारी युवा पीढ़ी इन मादक पदार्थों की गुलाम बनती जाएँगी, परिणाम स्वरूप आए दिन दंगे फसाद और गोलियां चलना आम बात होगा।
हालांकि FIR दर्ज होते ही SI सतीश गुप्ता ने तत्काल जाँच के आदेश अपनी टीम को दे दीये हैं। लखनऊ की जनता ऐसे चाय के व्यापारियों से शतर्क रहें और संदेह होने पर नजदीकी थाने में इसकी सूचना जरूर दें।

Back to top button