प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सुल्तानपुर में पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का किया उद्घाटन !

DAY NIGHT NEWS LUCKNOW

पीएम ने कहा कि UP में हमने लंबा दौर, ऐसी सरकारों का देखा जिन्होंने कनेक्टिविटी की चिंता किए बिना ही औद्योगीकरण के सपने दिखाए। परिणाम ये हुआ कि जरूरी सुविधाओं के अभाव में यहां लगे अनेक कारखानों में ताले लग गए। ये भी दुर्भाग्य रहा कि दिल्ली और लखनऊ, दोनों ही जगह परिवारवादियों का ही दबदबा रहा। सुल्तानपुर के सपूत श्रीपति मिश्रा के साथ भी तो यही हुआ था, परिवारवादी लोगों ने उनका अपमान किया था, जिसे यूपी के लोग कभी नहीं भुला सकते हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को सुल्तानपुर में पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का लोकार्पण किया। इससे पहले वे पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे पर एयरफोर्स के सुपर हरक्युलिस विमान से उतरे। वे पहले पीएम हैं जो हरक्युलिस से किसी एक्सप्रेस-वे पर उतरे हैं। उन्होंने कहा कि तीन साल पहले जब मैंने पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का शिलान्यास किया था, तब मैंने ये नहीं सोचा था कि इस एक्सप्रेस-वे पर ही मैं विमान से उतरूंगा भी।

अगर कोई अपना घर बनाता है तो मिट्टी की जांच करता है, अन्य पहलुओं को देखता है। लेकिन पूर्व की सरकारों ने यहां बिना कनेक्टिविटी की जानकारी किए ही बस वादे कर दिए जिससे विकास कोसों दूर रहा। आज मैं देख रहा हूं कि कुछ लोग अपना आपा खो रहे हैं, विचलित हो रहे हैं, ये वही लोग हैं लोग अपने समय में सफल नहीं हुए तो योगी जी की सफलता देख कर परेशान हैं।
आज प्रदेश में विकास हो रहा है तो इसका सबसे अधिक लाभ हमारी बहनों-बेटियों को मिल रहा है। घर, बिजली पानी, शौचालय, रसोई गैस मिलने से उनको सबसे बड़ी परेशानी से छुटकारा मिला है।

पीएम ने कहा कि यहां कुछ देर में यहां से विमानों की गर्जना उन लोगों के लिए होगी जिन्होंने डिफेंस इन्फ्रास्ट्रक्चर को दशकों तक नजरअंदाज किया। ये एक्सप्रेस-वे यूपी के विकास का एक्सप्रेस-वे है, ये एक्सप्रेस-वे यूपी के प्रगति का एक्सप्रेस-वे है, ये एक्सप्रेस-वे यूपी की मजबूत होती अर्थ व्यवस्था का एक्सप्रेस-वे है। ये एक्सप्रेस-वे यूपी की शान है, ये यूपी का कमाल है, पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे को यूपी की जनता को समर्पित करते हुए अपने आप को धन्य महसूस कर रहा हूं।

PM मोदी जी ने कहा ,
गरीबों को पक्के घर मिलें, गरीबों के घर में शौचालय हों, महिलाओं को खुले में शौच के लिए बाहर ना जाना पड़े, सबके घर में बिजली हो, ऐसे कितने ही काम थे, जो यहां किए जाने जरूरी थे। लेकिन मुझे बहुत पीड़ा है, कि तब यूपी में जो सरकार थी (सपा सरकार), उसने मेरा साथ नहीं दिया।
जिस तरह से यूपी में विकास हो रहा है उससे साफ है कि यूपी का भाग्य बदलना शुरू हो गया है। पहले कितनी बिजली कटौती होती थी, कौन भूल सकता है कि यूपी में कानून व्यवस्था की क्या हालत थी, यहां मेडिकल सुविधा की क्या व्यवस्था थी। पहले की सरकारों ने यूपी को ऐसा बना दिया था कि यहां राह नहीं होती थी, यहां राहजनी होती थी।
यह भी एक सच्चाई है कि यूपी जैसे विशाल प्रदेश में एक शहर दूसरे शहर से दूर रहता था। पूर्वांचल के लोगों के लिए तो लखनऊ पहुचना भी महाभारत जीतने जैसा होता था।
मुझे मालूम था कि जिस तरह तब की सरकार ने यूपी के लोगों के साथ नाइंसाफी की जा रही है, विकास में भेदभाव किया जा रहा है, जिस तरह सिर्फ अपने परिवार का हित साधा जा रहा है, यूपी के लोग ऐसा करने वाली सरकार को हमेशा-हमेशा के लिए यूपी के विकास के रास्ते से हटा देंगे।
पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे की विशेषता सिर्फ यही नहीं है कि यह 9 जनपदों को जोड़ेगा बल्कि यह एक्सप्रेस-वे लखनऊ को उन शहरों से भी जोड़ेगा जहां विकास की असीम संभावनाएं हैं।

Back to top button