अमित शाह ने मिशन-2022 को लेकर जनसभा को संबोधित करते हुए कहा ……..

DAY NIGHT NEWS LUCKNOW

उत्तराखंड के दौरे पर आए केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने कांग्रेस को चुनौती देते हुए कहा कि कांग्रेस ने अपनी सरकार के समय के घोषणा पत्र पर कितना काम किया है, उन्होंने कहा कि आज जनता कांग्रेस को समझ गई है। कांग्रेस सिर्फ तुष्टीकरण की राजनीति करती है। इतना ही नहीं उन्होंने शुक्रवार को नमाज पढ़ने के लिए छुट्टी पर भी कांग्रेस को निशाने पर लिया।

अमित शाह ने देहरादून में उत्तराखंड सरकार की घसियारी कल्याण योजना का शुभारंभ किया। इससे पहले शाह ने राज्य की 670 बहुद्देश्यीय सहकारी समितियों के कंप्यूटराइजेशन का उद्घाटन किया। 

केंद्रीय गृह व सहकारिता मंत्री व भाजपा के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह शनिवार को उत्तराखंड में पार्टी के चुनाव अभियान का आगाज करने पहुंचे। यहां शाह ने राज्य सरकार की घसियारी कल्याण योजना का भी शुभारंभ किया है। और कांग्रेस को आड़े हाथ लिया। वहीं अमित शाह की प्रदेश पदाधिकारियों संग होने वाली बैठक और भाजपा कोर ग्रुप की बैठक रद्द कर दी गई।
शाह ने पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत को चुनौती दी कि कांग्रेस ने अपनी सरकार के समय के घोषणा पत्र पर कितना काम किया है, इस पर किसी भी चौराहे पर चर्चा हो जाए। शाह ने उन्हें खुली बहस की चुनौती दी। भाजपा ने अपने घोषणा पत्र में किए गए लगभग 85 प्रतिशत वादों को पूरा किया है।

देवभूमि उत्तराखंड से केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने मिशन-2022 को लेकर जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि फिर से राज्य में भाजपा को पूर्ण बहुमत के साथ लाना है और साथ ही कांग्रेस को भी आड़े हाथ लिया। उन्होंने कहा कि चुनाव के समय कांग्रेस नए कपड़े सिलाकर आती है। आपदा के समय पार्टी के नेता कहां थे।शाह ने हरीश रावत पर साधा निशाना साधते हुए कहा कि अब जनता आपको समझ गई है। उन्होंने कांग्रेस पर सवाल दागा कि आखिर किसके कार्यकाल में नकली शराब बनी थी।
अमित शाह ने कहा, उत्तराखंड का भला भाजपा ही कर सकती है। यह भाजपा का नैतिक दायित्व भी है। विभिन्न परियोजनाओं में 85 हजार करोड़ देने का काम प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने किया। यह तो हमारा हिसाब है। कांग्रेस हिसाब दे कि उन्होंने अपने कार्यकाल में क्या किया।

अमित शाह ने उत्तराखंड की जनता से पांच साल का समय और मांगा। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड वीर भूमि है। वन रैंक, वन पेंशन देने का काम भाजपा सरकार ने किया है। गड्ढा बहुत बड़ा है, जो सिर्फ पांच साल में नहीं भरेगा। एक बार पांच साल का मौका और दें। भाजपा और नरेन्द्र मोदी पर विश्वास कीजिए।

Back to top button