जनपद संत कबीर नगर आम आदमी पार्टी ने किया मटका फोड़ो कार्यक्रम, योगी सरकार में व्याप्त भ्रस्टाचार के खिलाफ फोड़ा मटका!

डे नाइट न्यूज ब्यूरो चीफ संजय कुमार यादव की रिपोर्ट

जनपद संत कबीर नगर दिनांक 25/08/2021

Day Night News

Netional News Network

Sant Kabir Nagar

आम आदमी पार्टी, संत कबीर नगर का मटका फोड़ो आंदोलन आज दिनाँक 25 अगस्त 2021, दिन बुद्धवार को जिलाधिकारी कार्यालय पर सम्पन्न हुआ। जहां पर आम आदमी पार्टी के सैकड़ो पदाधिकारी जल संरक्षण अभियान में हुए अरबो-खरबों के घोटालों के विरोध में मटका फोड़ अपना विरोध प्रदर्शन किया, साथ ही राज्यपाल को संबोधित ज्ञापन भी जिलाधिकारी महोदया के माध्यम से सौंपा गया।
इस कार्यक्रम की अध्यक्षता जिलाध्यक्ष रमेश चंद्र यादव ने की।
इस पर जिलाध्यक्ष रमेश चंद्र यादव ने कहा कि योगी-मोदी सरकार के घोटाले पर जांच की मांग कर जनता के पैसे का हिसाब मांगा जाएगा। संत कबीर नगर में विकास के नाम पर न सड़क ठीक है, न स्कूल ठीक हैं, न स्वास्थ सुविधाएं ठीक है। इन प्रभावित क्षेत्रों में व्यापक घोटाले यहां के जनप्रतिनिधियों द्वारा किया जा रहा है इस आपदा में जो जनप्रतिनिधि लूट रहे हैं इन बेशर्मों का आने वाले चुनाव में जनता जमानत जब्त करवाने वाली है।


जिला महासचिव आलोक श्रीवास्तव ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा शुरू किए गए ‘जल जीवन मिशन’ के अंतर्गत वर्ष 2020-21 में राज्यों को ₹1 लाख 20 हजार करोड़ का आवंटन किया गया था। किंतु, इस योजना के क्रियान्वयन में उत्तर प्रदेश सरकार के जल शक्ति मंत्री डॉ महेंद्र सिंह एवं अन्य अधिकारियों के द्वारा किए गए लगभग हजारों करोड़ रुपये के भ्रष्टाचार का मामला सामने आया है। उत्तर प्रदेश में ‘जल जीवन मिशन’ के अंतर्गत हर घर पानी पँहुचाने हेतु पाइप सप्लाई का कार्य ‘रश्मि मटेलिक्स’ नामक कंपनी को दिया गया है। इस कंपनी का भ्रष्टाचार एवं निकृष्ट पाइप बनाने में लिप्त रहने का इतिहास रहा है, जिससे सम्बंधित विभिन्न तथ्य निम्न प्रकार है –
केंद्रीय आर्थिक सूचना ब्यूरो (CEIC) ने अपनी जाँच में पाया था कि यह कंपनी फ़र्जी निवेश तथा फ़र्जी शेल कंपनियाँ बनाने में भी लिप्त है।
प्रबुद्ध प्रकोष्ठ के प्रदेश सचिव सौम्येन्द्र प्रताप श्रीवास्तव ने बताया कि उत्तर प्रदेश में ‘जल जीवन मिशन’ के क्रियान्वयन में भारी आर्थिक अनियमिततायें सामने आयी है, जो कार्य उत्तर प्रदेश जल निगम द्वारा लगभग ₹1580 एवं ₹1501 में संपन्न हो जाता है, वही कार्य जल जीवन मिशन के अंतर्गत लगभग ₹2065 एवं ₹2100 में करवाया जा रहा है। इस तरह भ्रष्टाचार के कारण राज्य में मिशन के हर कार्य के लागत सामान्य से 30% से 40% तक बढ़ गई है।
अतः महामहिम उत्तर प्रदेश राज्यपाल महोदया श्रीमती आनंदी बेन पटेल से अनुरोध है कि इस अति गंभीर मामले को सीबीआई को सौंप कर जांच करवाएं, जिससे दोषियों को सख्त सजा मिले।


इस कार्यक्रम में मुख्य रूप से रमेश चंद्र यादव, आलोक श्रीवास्तव, बलवंत राय, राम निवास मौर्य, तीरथ अग्रहरि, प्रतिमा यादव, श्याम यादव, अनुराग जायसवाल, ब्रह्मदेव सिंह, जनार्दन यादव, राजेन्द्र प्रसाद पाल, मयंक धर सिंह, रघुनंदन सफाई कर्मी, अजय कुमार कन्नौजिया, डॉ० धर्मेंद्र आर्य, राम गोपाल तिवारी, सुधीर सिंह, अम्बिका राय, धर्मेंद्र कुमार सिंह, अजय नारायण मिश्र, दुर्विजय यादव, राजवंत यादव, जैनेंद्र धर दूबे, अभिनव मणि, सुनील कुमार, राम सिंह, डॉ अमित कुमार, राम सहाय इत्यादि सैकड़ो लोग उपस्थित रहें।

Back to top button